बायजूस ने जयपुर में ‘बायजूस ट्यूशन सेंटर’ का शुभारंभ किया ,, चौथी कक्षा से लेकर 10वीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिये तराशने के लिये ऑफलाइन और ऑनलाइन पढ़ने का तरीका पेश कर रहा है इस साल जयपुर में 10 सेंटर संचालित होंगे 200 शहरों में 500 सेंटर्स खोलने का लक्ष्य देशभर में 10,000 से भी ज्यादा नौकरियां तैयार करने की उम्मीद अगले दो सालों में 10 लाख विद्यार्थियों का नामांकन करने का लक्ष्य,,

78

जयपुर, 13 अप्रैल, 2022।(निक शिक्षा) दुनिया की प्रमुख एडटेक कंपनी जिसके 11.5 करोड़ रजिस्टर्ड लर्नर्स हैं, ने आज जयपुर में अपने ‘बायजूस ट्यूशन सेंटर’ के शुभारंभ की घोषणा की। यह विद्यार्थियों के लिये अपनी तरह का अनूठा प्रोग्राम है जोकि अपने साथ ऑफलाइन और ऑनलाइन लर्निंग अनुभव का सबसे बेहतर अनुभव लेकर आया है। इस साल के अंत तक जयपुर में ‘बायूजस ट्यूशन सेंटर’ के ऐसे ही 10 सेंटर्स खुलने वाले हैं।
चार सेंटर्स पहले से ही संचालित हो रहे हैं और बाकी सेंटर्स मई से अगस्त 2022 के बीच खोले जाएंगे। सारे सेंटर्स शहर के आसान पहुंच वाले और मुख्य जगहों पर स्थित हैं, जैसे राजा पार्क, वैशाली नगर, गोपालपुरा बायपास और सी-स्कीम आदि।
चौथी से 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिये उपलब्ध, ‘बायजूस ट्यूशन सेंटर’ तकनीक से लैस आस-पास के फिजिकल ट्यूशन सेंटर्स हैं जहां दो टीचर मॉडल के साथ वहां जाकर ट्यूशन पढ़ने की व्यवस्था है। ये सेंटर्स स्टूडेंट्स को भागीदारी और बेहतर परिणामों के साथ विश्व-स्तरीय पढ़ाई का अनुभव देते हैं।
पायलट कार्यक्रम के तहत, देश भर में शुरू किए गए पहले 100 सेंटर्स से मिली काफी अच्छी प्रतिक्रिया के बाद, बायजूस 200 शहरों में 500 सेंटर्स लॉन्च करेगा। ‘बायजूस ट्यूशन सेंटर’ ना केवल अपने संपूर्ण टीचिंग और लर्निंग सिस्टम के साथ स्कूल के बाद की लर्निंग को पुन:परिभाषित करेगा, बल्कि एक साल के भीतर पूरे भारत में 10,000 से अधिक लोगों के लिये रोजगार के अवसर भी पैदा करेगा। बायजूस का लक्ष्य अगले दो वर्षों में 10 लाख स्टूडेंट्स को इस प्रोग्राम में नामांकित करना है।

‘बायजूस ट्यूशन सेंटर’ सबसे बेहतर तकनीक, टीचर्स और फॉर्मेट का मेल है ताकि स्टूडेंट्स को पढ़ाई का एक संपूर्ण और प्रभावी अनुभव मिल सके। पढ़ाने का मानकीकृत तरीका पढ़ाई का बेहतरीन अनुभव देने के साथ अध्‍यापकों के साथ एक गहरा रिश्‍ता बनाता है, जिससे बेहतर परिणाम मिलते हैं। तकनीक और फीचर्स जैसे संदेह दूर करने में सहयोग, नियमित टेस्ट/प्रैक्टिस सेशन और लगातार पेरेंट- टीचर मीटिंग के साथ, विद्यार्थियों को उच्‍च गुणवत्‍ता वाले अध्‍यापकों तक पहुंच और व्यक्तिगत ध्‍यान दोनों का फायदा मिलता है।
इस लॉन्च के बारे में, हिमांशु बजाज, हेड, बायजूस ट्यूशन सेंटर का कहना है, “हमें जयपुर में बायजूस ट्यूशन सेंटर के लॉन्च की घोषणा करते हुए बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। विश्व-स्तरीय एजुकेशन हब के रूप में महत्व रखने के कारण यह हमारे लिये बहुत ही अहम शहर है। इस महामारी को देखते हए, स्टूडेंट्स ऑफलाइन और ऑनलाइन लर्निंग के बीच झूल रहे हैं, लेकिन बायजूस की यह नई पेशकश, देशभर में विद्यार्थियों और अभिभावकों की मुश्किल समस्या का हल निकालेगा। बायजूस का ट्यूशन सेंटर्स व्यक्तिगत रूप से पढ़ने की दिशा में अगला कदम है। तकनीक से लैस बायजूस का फिजिकल सेंटर्स अनूठा दो टीचर-मॉडल देता है साथ ही साथ अध्‍यापक और विद्यार्थियों के बीच व्‍यक्तिगत संबंध बनाने में मदद करता है। जो तरक्की और प्रदर्शन के आकलन के लिये एनालिटिक्स-नेतृत्व से समर्थित है। इसके साथ ही सारे स्टूडेंट्स को बायजूस के ऑनलाइन इकोसिस्टम तक पहुंचने का भी मौका मिलेगा। स्टूडेंट्स की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए, हम इस नई पेशकश के लिये तत्पर हैं और आगे बढ़ने वाले और अद्वितीय शैक्षणिक वातावरण में भविष्य के लिये स्टूडेंट्स को तैयार कर रहे हैं।

*open link FOR this NEWS*

*SUBSCRIBE OUR CHANNEL CONTACT FOR YOUR NEWS ON WHATSAPP 8107068124*

बायजूस ट्यूशन सेंटर स्टूडेंट्स को लर्निंग के उस फर्क को मिटाने, वैचारिक समझ को मजबूत करने और परीक्षा की तैयारी सुनिश्चित करने वाले नियमित प्रैक्टिस और टेस्ट के माध्यम से लर्निंग को सुदृढ़ करने में सक्षम बनाता है। स्टूडेंट्स के पास उनकी ऑफलाइन और ऑनलाइन कक्षाओं के लिये भी वही अध्‍यापक होंगे जो उनकी व्यक्तिगत पढ़ाई के सफर में उनका सहयोग करेंगे।

    मौजूदा हालात और विद्यार्थियों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए, बायजूस ट्यूशन सेंटर के माध्यम से बायजूस स्टूडेंट-केंद्रित अपने तरीके को नये सिरे से परिभाषित कर रहा है। साथ ही नये और अलग तरह के अनुभव, उत्‍पाद और लर्नर्स की वास्तविक जरूरतों के आधार पर सेवाएं प्रदान कर रहा है। लर्निंग का मिश्रित रूप महामारी के बाद की दुनिया में पढ़ाई का भविष्य होने वाला है, बायजूस ट्यूशन सेंटर इस फॉर्मेट में नई मिसालें कायम कर रहा है।
    पिछले साल, कंपनी ने बायजूस क्लासेस को अपने लर्नर्स के लिये टू-टीचर लाभ के साथ लॉन्च किया था। 11.5 करोड़ रजिस्टर्ड स्टूडेंट्स और 70 लाख सशुल्क सब्सक्रिप्शन के साथ, बायजूस का सालाना रिन्यूअल रेट 86% है। बायजूस एजुकेशन फॉर ऑल, सामाजिक पहल के तहत, बायजूस ने 3.4 मिलियन (34 लाख) बच्चों को डिजिटल लर्निंग के माध्यम से शिक्षा प्राप्त करने में मदद की है और इसका लक्ष्य 2025 तक वंचित समुदायों के 10 मिलियन बच्चों को सशक्त बनाना है।