राजस्थान वेटरनरी के कुलपति पर उठे सवाल,, उच्च स्तरीय जांच की मांग,,,

44

जयपुर 17 नवम्बर 2022।(निक विशेष) राजस्थान युवा बोर्ड के सदस्य सुनील शर्मा ने प्रेस कांफ्रेंस में गंभीर आरोप लगाए की राजस्थान वेटेरिनरी विश्वविद्यालय, बीकानेर में हो रही भर्तियों में विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा की जा रही है घोर अनियमितताऐं ।
इसी विश्वविद्यालय के कुलपति महोदय द्वारा तथ्यों को छिपा कर/तोड मरोड़ कर राजभवन एवं राज्य सरकार को गुमराह कर कुलपति का पद हांसिल करने के बारे में आपका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूँ जिसके मुख्य बिंदु निम्न प्रकार हैं:-

1. 176 पदों पर वित्तीय एवं प्रशासनिक स्वीकृति, 176 पदों पर ही रोस्टर लगाकर सिर्फ चुनिन्दा 72 सीटें निकालना।
2. राज्य सरकार द्वारा निर्धारित रोस्टर प्रणाली की खुले आम धज्जियां उड़ाना:-
ऽ विषयवार रोस्टर के बीच में कैडर की प्रविष्टि जैसे विषयों के बीच में पदों को लेना,
ऽ असमान शैक्षणिक योग्यताओं (वेटेरिनरी/नॉन वेटेरिनरी) के बावजूद एक ही समूह में रोस्टर लगाना।
4. विज्ञप्ति जारी करने के पहले बोर्ड ऑफ मैनेजमेंट की स्वीकृति नहीं लेना।
5. फार्म भरने की अंतिम तिथि निकल जाने के बाद पशु चिकित्सा अधिकारी के अनुभव के अंकों को मानने के नाम पर चहेतों को लाभ पहुंचाने का प्रयास।
6. कुलपति महोदय द्वारा स्वयं के चयन के समय तथ्यों को छिपाना/तोड मरोड कर प्रस्तुत करना एवं कई मुकदमें दर्ज होने के बावजूद उनकी तथ्यात्मक जानकारी साझा नहीं करना।

*Open link for this news*

*Subscribe Share LIKE*
*CONTACT FOR YOUR* *NEWS ON MOB* *8107068124*

    सुनील शर्मा ने मीडिया को बताया की मैं आपके माध्यम से राजभवन व राजस्थान सरकार से अपील करता हूँ कि उनके द्वारा लिए जाने वाले सभी नीतिगत निर्णयों एवं भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा कर उच्च स्तरीय जांच करवाया जाना आवश्यक है जिससे कि शिक्षा में पूर्ण पारदर्शिता का पालन हो सके।