शोषण की दास्तां बयां करता,भीलवाड़ा होलसेल उपभोक्ता भंडार,, अनियमितताओं का है बोलबाला, सरकारी नियुक्ति पर आए मार्केटिंग कर्मचारियों से लगवाते हैं झाड़ू पोंछा, उठवाए जाते हैं दाल,चीनी नमक आदि के भारी कट्टे, जनरल मैनेजर सुरेंद्र सिंह खंगारोत और संविदा कर्मी रेखा शर्मा पर लगे गंभीर आरोप ? सीरीज 1st

748

*शोषण की दास्तां बयां करता भीलवाड़ा उपभोक्ता होलसेल भंडार,
*सरकारी नियुक्ति पर लगी मार्केटिंग महिला कर्मचारी से उठवाया जाता है शटर,
*महिला कर्मचारियों के लिए बाथरूम की सुविधा नहीं,
*रजिस्ट्रार को भी लिखित में बया की जा चुकी है अपनी व्यथा,
कोई कार्यवाही नहीं क्या कुएं में भांग पड़ी है ?

भीलवाड़ा/जयपुर 26 अक्टूबर 2022।(निक विशेष)मामला भीलवाड़ा उपभोक्ता होलसेल भंडार का है जहां राजस्थान कोऑपरेटिव रिक्रूटमेंट बोर्ड जयपुर के द्वारा अलग-अलग पोस्ट जूनियर असिस्टेंट, एलडीसी, कैसियर, टाइपिस्ट ,सेल्समैन,स्टोर कीपर, गोदाम कीपर की भर्ती अप्रैल 2021 की निकली थी। जुलाई 2021को परीक्षा हुई और दिसंबर में ज्वाइनिंग दे दी गई । जिसमें 2 पुरुष और एक युवती ने
यहां भीलवाड़ा होलसेल उपभोक्ता भंडार में जुलाई 2022 को ज्वाइन कर लिया। उन्हें मार्केटिंग में नियुक्त किया गया।

बिना तारीख के करवाई गई जॉइनिंग

गौरतलब है की इन तीनों को बिना डेट के जॉइनिंग करवा ली गई। पीड़ित महिला कर्मचारी ने बताया की यहां सब संविदा कर्मी है! सवाल यह उठता है की जब पूरे होलसेल उपभोक्ता भंडार भीलवाड़ा में सभी फार्मासिस्ट, जूनियर असिस्टेंट, एलडीसी, केसियर, टाइपिस्ट, स्टोर कीपर ,गोदाम कीपर आदि के पद रिक्त हैं तो जानबूझकर जनरल मैनेजर सुरेंद्र सिंह खंगारोत द्वारा सभी सरकारी कर्मचारियों को सुपरमार्केट में सेल्समैन पर नियुक्ति क्यों दी गई ? यह भी एक जांच का विषय है शायद जनरल मैनेजर यह नहीं चाहता है कि होलसेल उपभोक्ता भंडार में कोई सरकारी कर्मचारी आए ?

रजिस्टरार को लिखा हुआ पत्र

जबकि जनरल मैनेजर सुरेंद्र सिंह खंगारोत खुद इंस्पेक्टर पोस्ट का है जो कि डेपुटेशन पर लगा हुआ है । जबकि महाप्रबंधक की पोस्ट के लिए डीआर पोस्ट वाले कर्मचारी की योग्यता रखने वाला होना चाहिए ! आगे गंभीर आरोप लगाते हुए पीड़िता ने कहा की महाप्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत द्वारा हमें जानबूझकर मार्केटिंग में जॉइनिंग दी गई जबकि भीलवाड़ा होलसेल उपभोक्ता भंडार मैन हेड ऑफिस में सभी संविदा कर्मी कार्यरत है! इतने सालों तक आज तक इस डिपार्टमेंट में कभी कोई सरकारी कर्मचारी नहीं आया इसलिए इनको हमारी नई भर्ती से दिक्कत है। मुख्य कार्यालय में और अन्य सभी सुपर मार्केट में प्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत द्वारा अपने चहते और रिश्तेदारों को लगा रखा है ताकि वह अपनी मनमानियां कर सके ! सारा लेन-देन सब मैनेजमेंट मुख्य कार्यालय से ही होता है तो इनको डर है कि सरकारी कर्मचारी अगर ऑफिस में काम करने लगे तो इनके काले कारनामे खुल सकते हैं ? इसलिए जानबूझकर सरकारी कर्मचारियों को परेशान किया जाता है जिससे वह जॉब छोड़कर यहां से चले जाए!

संविदा कर्मी रेखा शर्मा की बेटी काउंटर पर पैसों के साथ खेलती हुई

    कुछ ऐसे सवाल जिनके जवाब ढूंढना विभाग के आला अफसरों को अवश्य चाहिए जिससे इतने सालों से हो रही अनियमितताएं उजागर हो सके। पीड़िता ने कुछ महीने काम करने के अनुभव को साझा करते हुए न्यू इंडिया खबर को बताया की इसकी जांच अवश्य होनी चाहिए बहुत से घपले उजागर होगें,,,
    .भीलवाड़ा महाप्रबंधक खुद के निजी लाभ के लिए बिना तारीख वाली एप्लीकेशन पर 7 जनों को जॉइनिंग दी जबकि तीन जनों ने ही ज्वाइन किया है!
    नए सरकारी नियुक्ति पर आए कर्मचारियों से 11-12 घंटे ड्यूटी करवाई जाती थी! पीड़ित युवती को जानबूझकर एक सुपर मार्केट से दूसरे सुपर मार्केट में ट्रांसफर किया गया है जहां पर दोनों जगह और आसपास वॉशरूम फैसिलिटी नहीं है। आए दिन पीड़िता की ड्यूटी टाइम में बदलाव किया जाता है इस असुविधा के लिए पीड़िता ने एप्लीकेशन भी लगाई और रिक्वेस्ट भी की महाप्रबंधक से तो महाप्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत ने उसे भला बुरा सुनाया कि तुम्हें शर्म आनी चाहिए वॉशरूम के लिए तुम एप्लीकेशन लगा रही हो, यह तुम्हारी पर्सनल प्रॉब्लम है। इसमें कलेक्टर और रजिस्ट्रार भी कुछ नहीं कर सकता है ,यहां पर सब मेरे हिसाब से चलता है। अगर वॉशरूम की प्रॉब्लम तो जॉब से रिजाइन कर दो ,जबकि जयपुर रजिस्ट्रार महोदय ने मुझ कर्मचारी को हेडऑफिस भीलवाड़ा में लगाने का ऑर्डर दिया था।पीड़िता ने रूआंसा होते हुए बताया की भीलवाड़ा नागोरी गार्डन सुपरमार्केट के इंचार्ज संविदा कर्मी रेखा शर्मा मुझे जाति सूचक शब्दों से संबोधित करती है की तुम लोगों में दिमाग नहीं होता है तुम्हारी की बुद्धि घुटनों में होती हैं यह तुम्हारे बाप दादाओ की दुकान नहीं है। तुम यहां फोर्थ क्लास हो झाड़ू पोछा डस्टिन करोगी साथ ही शक्कर, दाल चावल तोलने का काम भी करोगी मुझ महिला कर्मचारी को 50 किलो के शक्कर नमक दाल चावल के कट्टे उठाने का दबाव बनाती है और बोलती कि अगर यह नहीं उठते हैं तो इनको घसीट कर ले जाओ। यही काम करने के लिए मैंने लगा रखा है तुम्हें और महाप्रबंधक ने भी मुझे बोल रखा है!
    महा प्रबंधक सुरेंद्र खंगारोत द्वारा हमारे पर दबाव बनाया जाता है बिना ऑडिट के सुपरमार्केट नागोरी गार्डन का इंचार्ज ले ,ना हमें सेल, परचेज, इन्वेंटरी से रिलेटेड, सॉफ्टवेयर से संबंधित कोई जानकारी दी गई!
    और गंभीर बात संविदा कर्मी रेखा शर्मा की पुत्री और पति दोनों वर्क स्थल पर आते और हमें कार्य करने में विघ्न पैदा करते। वहीं पर खाते पीते और सो जाते हैं ! इनकी पुत्री 8 वर्षीय कैश काउंटर पर बैठ जाती है जिससे आए दिन पैसों के हिसाब में गड़बड़ आती और संविदा कर्मी रेखा शर्मा मेरे पर आरोप लगाकर मेरे को रोज रोज जॉब छोड़ने के लिए धमकियां देती है और बोलती कि अभी तू मेरे को जानती नहीं है मैं क्या क्या कर सकती हूं!
    जनरल मैनेजर भी बहुत बदतमीजी से बात करता और बार-बार धमकियां देता की जॉब छोड़कर चले जाओ नहीं तो मैं तुम्हारी लाइफ और फ्यूचर बर्बाद कर दूंगा और तुम्हारी सर्विस बुक भी खराब कर दूंगा !प्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत चैलेंज भी करता अगर मैंने ऐसा नहीं कर दिया तो मेरा नाम ही सुरेंद्र सिंह खंगारोत नहीं! महाप्रबंधक के आदेशानुसार मुझ महिला कर्मचारी द्वारा सुपर मार्केट का शटर खुलवाया जाता है और बहुत भारी काउंटर मेरे से व्यवस्थित करवाया जाता है!
    गौर करने की बात यह है की बिना किसी से डरे सरकारी पद पर होते हुए प्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत मुझे डराता और बोलता कि यहां पर सभी काम अनऑफिशियल हो रहे हैं अगर यहां पर कोई सेवा नियम के अनुसार चलता है या फिर कोई कागजी कार्रवाई करता है तो मैं उनको कागजों के साथ ही इस्तीफा दिलवा देता हूं यहां तुम पता कर लेना मैंने बहुत सारे लोगों को यहां से निकाल दिया है जिनको अनऑफिशियल काम करने में प्रॉब्लम थी!
    मुख्य कार्यालय भीलवाड़ा मे महाप्रबंधक सुरेंद्र सिंह और संविदा कर्मी मीनाक्षी शर्मा, रेखा शर्मा ने ऑफिस के अन्य संविदा कर्मी कर्मचारियों को बोल रखा है गवर्नमेंट भर्ती वाले तीनों जनों को ब्लॉक कर दो, नहीं तो तुम्हें जॉब से बाहर निकाल देंगे, नागोरी गार्डन सुपरमार्केट के सभी संविदा कर्मी कर्मचारियों ने भी हमें ब्लॉक कर रखा है! हम तीनों गवर्नमेंट भर्ती वाले कर्मचारियों को अलग से एक सुपर मार्केट में संयुक्त इंचार्ज बना रखा है ना कोई एक्सपीरियंस वाला कर्मचारी वहां लगाया जो हमें गाइड कर सके, मार्केटिंग से संबंधित हमें कोई सूचना चाहिए तो तो इनसे किस तरीके से संपर्क करें!
    महाप्रबंधक सुरेंद्र सिंह खंगारोत द्वारा और ऑफिस के अन्य संविदा कर्मी द्वारा मुझे डराया धमकाया गया और दबाव बनाया गया कि आपके पापा के और घर वालों के मोबाइल नंबर दो उनसे बात करनी है मुझे तो यहां ऑफिस में मेंटली टॉर्चर कर ही रहे हैं मेरे घर वालों को भी परेशान करने का नया तरीका अपनाया है!

    यह है नेचर ऑफ जॉब जबकि कराया जाता है फोर्थ क्लास का काम

    8 लाख 47 हजार से अधिक readers/viewers

    आप सभी का बहुत धन्यवाद,
    Sunny Atrey
    प्रधान संपादक दैनिक सांध्य दिव्य राष्ट्र
    मुख्य संपादक Newindia खबर
    प्रदेश अध्यक्ष पिरियोडिकल प्रेस ऑफ़ इंडिया
    (पत्रकार संगठन)
    Whatsapp/mob 8107068124

    उक्त सभी बातों से कलेक्टर महोदय को प्रार्थना पत्र के साथ बताया जा चुका है ! इनकी हरकतों के सभी सबूत भी कलेक्टर (एसडीएम) को पेश कर रखे हैं! कलेक्ट्री से इसका परिवाद बनाकर संबंधित सिटी पुलिस स्टेशन अति आवश्यक अविलंब कार्रवाई करके अविलंब अति शीघ्र जांच पेश करने के आदेश दिए गए है जिस पर 13 अक्टूबर 2022 को भीलवाड़ा सिटी पुलिस स्टेशन एसएचओ मदन लाल खटीक को सारे सबूत ऑडियो और वीडियो एक सीडी में पेश किए लेकिन अभी तक भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
    पीड़िता ने मीडिया के जरिए गुहार लगाई है की शीघ्र मामले की गंभीरता समझते हुए इस भंडार की जांच की जाए और दोषियों को सजा दी जाए।