गोविंद मार्ग ,जनता कॉलोनी स्थित #द फर्न रेजिडेंसी होटल # ऊंचे रसूखदारों व पैसे के बल पर कर रहा है अवैध निर्माण, किसकी शह पर,,बावजूद इसके अवैध निर्माण का स्टे है, पीछे 35 से 40 कमर्शियल सिलेन्डर रखे रहते हैं , कॉलोनी में कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा,, भूखंड संख्या 13 गोविंद मार्ग द फर्न होटल कि मालकिन नीता जगतानी ने,मोती डूगरी जोन में दे रखा है, अवैध निर्माण नहीं करने का लिखित पत्र ,बावजूद इसके तीनों दिशाओं में सेट बैक नहीं छोड़कर चल रहा है अवैध निर्माण,कौन है इस गोरखधंधे में, पीछे का हिस्सा कब होगा ध्वस्त,, न्यू इंडिया खबर की रहेगी पैनी नजर ,,,सीरीज -1st

264

जयपुर 14 जनवरी 2020 ।(निक क्राइम) जहां राजस्थान सरकार पुलिस आयुक्तालय , ऑपरेशन क्लीन स्वीप चलाकर राजस्थान को नशा मुक्त कराने के लिए कटिबद्ध है,इसके अंतर्गत अभी तक अवैध नशे के कारोबारियों,नशा करने वालों की अभियान के तहत धर पकड़ जारी रखे हुए हैं।
वहीँ यातायात उपायुक्त भी नशा कर गाड़ी चलाने वालों को पकड़ कर उनका ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर रही है।

लेकिन शायद अवैध निर्माण करने वाले गुलाबी नगर जयपुर को बदनुमा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।
नगर निगम हो या जयपुर विकास प्राधिकरण, इनके अतिक्रमण दस्ते मात्र फोरी कार्यवाही कर अवैध निर्माण करने वालों को मिलीभगत कर शह दे रहे हैं।
अगर आप विगत मीडिया रिपोर्ट्स को देखें तो पाएंगे पुलिस आयुक्तालय, व यातायात उपायुक्त अपना कर्तव्य बखूबी निभा रहे हैं उलट उसके अवैध निर्माण आज भी जारी है ऐसा ही एक उदाहरण हाल ही में Newindia खबर के संज्ञान में आया ।
यह मामला है श्रीमती नीता जगतानी पत्नी स्वर्गीय श्री शीतल दास भूखंड संख्या 13 गोविंद मार्ग जनता कॉलोनी का, यहां नीता जगतानी की होटल द फर्न रेजीडेंसी,जहां स्टे के बावजूद अवैध निर्माण धड़ल्ले से किया जा रहा है।
न्यू इंडिया खबर ने मौके पर जाकर निर्माण कार्य को देखा और उससे प्रभावित होटल के ठीक पीछे जनता कॉलोनी में रहने वाले बी 45 46 47 में रहने वाले कॉलोनी वासियों से इस बाबत बात भी की, उनका कहना था, जोकि होटल के पीछे का हिस्सा मैं साफ दिख रहा था की नियमानुसार पीछे का सेट में 21 फीट चौड़ा जाना चाहिए जो कि आसपास के सभी जगह छोड़ा गया है।
इस होटल में मिलीभगत कर पहले 3 फीट फिर उसके बाद 6 फीट की दोनों साइड बालकोनिया निकाली हुई है पीछे के हिस्से में फायर एग्जिट एग्जिट के नाम पर 21 फीट के सेट बैक पर लोहे के बड़े-बड़े गर्डर लगाकर निर्माण शुरू कर रखा है।
कॉलोनी वासियों कहना है जनरेटर भी उत्तर पश्चिम के पीछे के हिस्से पर लगा दिए गए हैं और होटल के ठीक पीछे 30 से 40 कमर्शियल सिलेंडर हर वक्त वहां रखे रहते हैं,जिससे कभी भी कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है।
नियमानुसार होटल की हाइट भी 90 फीट होनी चाहिए लेकिन हाइट को भी बढ़ा दिया गया है न्यू इंडिया खबर मोती डूंगरी जोन उपायुक्त व जयपुर विकास प्राधिकरण के डीसी से सीधे सवाल करता है कि स्टे के बावजूद नीता जगतानी द्वारा लिखित पत्र में अवैध निर्माण नहीं करवाने के बावजूद,आपने अब तक कोई कार्यवाही क्यों नहीं की किसकी शह पर यह अवैध निर्माण का काला धंधा चल रहा है

पीछे का हिस्सा कब होगा ध्वस्त

Newindia खबर के एक लाख 51 हजार से अधिक पाठकों से अपील किसी भी अवैध निर्माण की जानकारी देने के लिए संपर्क करें
Sunny atrey,editor Newindia khabar
Mob 8302118183,WhatsApp number 8107068124