बरखा के ब्रश ने उकेरे प्रकृति के रंग,TOGETHERNESS WITH NATURE चित्र प्रदर्शनी बनी आकर्षण का केंद्र

276

अपनी पहली ही चित्र प्रदर्शनी में बरखा मीणा ने बटोरी सुर्खियां,, जवाहर कला केंद्र के पारिजात 2nd में बिखर रहे हैं प्रकृति के रंग
जयपुर 19 जनवरी2019।(NIK culture) फाइन आर्ट्स में मास्टर डिग्री होल्डर बरखा मीणा को बचपन से ही प्रकृति से लगाव रहा है। जिसकी साफ झलक उनकी पेंटिंग्स में साफ झलकती है।
बरखा ने न्यूइण्डिया खबर को बताया कि उनके गुरु राजस्थान विस्वविद्यालय के आर्ट प्रोफेसर सुब्रतो मण्डल से हमेशा बहुत सीखने को मिलता है साथ ही माता पिता की प्रेरणा से वो आज अपनी पहली चित्र प्रदर्शनी लगा रही है ।
18 से 20 जनवरी तक प्रदर्शित प्रदर्शनी में मैंने प्रकृति के विभिन्न आयामों को दर्शाने की कोशिश की है,,तितलियां, मोर,पक्षी,पेड़ ,पहाड़,झरने आदि प्रकृति के विभिन्न रूपों के प्रतीक हैं,मुझे इन सभी रूपों से लगाव है। आज जहाँ प्रकृति के साथ खिलवाड़ हो रहा है वह समाज व देश के लिए भयावह स्थिति को उत्पन्न कर रहा है। हम सभी को प्रकृति के महत्व को समझते हुए प्राकृतिक सौंदर्य के प्रति सजग होना होगा।
तीन दिन चलने वाली इस प्रदर्शनी में फाइन आर्ट्स के छात्रों के साथ सभी वर्गों के प्रबुद्ध जनों का प्रकृति लगाव देखना अपने आप मे अनूठा है।