भ्रष्टाचारियों की फोटो और उनका नाम अब फिर से होगा सार्वजनिक, एसीबी का पूर्व आदेश वापस, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को साधुवाद,,एक और सरप्राइज मिल सकता है जल्द,

349

जयपुर 6 जनवरी 2023(निक विशेष) एसीबी के कार्यवाहक डीजी हेमंत प्रियदर्शी द्वारा पारित पूर्व आदेश को वापस ले लिया गया है।

पूर्व आदेश में भ्रष्टाचारियों के ट्रैप होने के बाद उनका नाम और पता पदनाम सार्वजनिक नहीं करने की बात कही गई थी। जिसकी मीडिया ने खुले रूप से भर्त्सना की थी आमजन में भी आक्रोश साफ नजर आ रहा था। क्योंकि इससे साफ नजर आ रहा था कि बिना प्रतिष्ठा गंवाए रिश्वतखोरी को खुली छूट मिल सकती थी रिश्वत का घिनौना खेल खेलने के लिए।
गौरतलब है मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इसकी समीक्षा कर आदेश वापस लेने की बात कल एक कार्यक्रम में कही थी।

    इससे पूर्व वसुंधरा राजे सरकार में भी ऐसे ही काले कानून निकाले जाने के बाद उसे भारी विरोध का सामना करना पड़ा था और कानून को वसुंधरा राजे को वापस लेना पड़ा और उनकी सरकार चली गई थी।
    मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नहीं चाहते थे कि आम जनता में गलत मैसेज जाए और भ्रष्टाचारियों को खुली छूट मिले जिससे सरकार पर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो सके।
    अब आमजन को बड़ी राहत मिलेगी और रिश्वतखोरियों को पूर्व एसीबी के क्रियाकलापों के अनुसार काम करने के अधिकार यथावत मिलेंगे।

    *Open link for this news 🖕🏾*

    Hamare channel ko *subscribe* Karen apni *samasya aur khabar* ke liye humse sampark Karen WhatsApp number 8302118183 per

    विश्वत सूत्रों के हवाले से जल्दी ही एसीबी के इस आदेश के मामले में एक और सरप्राइज मिलने की संभावना बन रही है।