जयपुर में इण्डिया करेगा इन्वेस्ट मीट सम्पन्न म्यूच्युअल फण्ड और स्टॉक में निवेश में राजस्थान का युवा निवेशक वर्ग अग्रणी

78

- 67 प्रतिशत राजस्थान में ग्रो इनवेस्टर्स 30 साल से कम उम्र के हैं
- 55 प्रतिशत कर रहे शेयरों में निवेश, 33 फीसदी म्यूचुअल फण्ड में, और 23 प्रतिशत दोनों में निवेश कर रहे हैं
- ग्रो की राष्ट्रव्यापी वित्तीय शिक्षा पहल, ‘अब इण्डिया करेगा इन्वेस्ट‘ मीट में जयपुर में 2000 से अधिक रिटेल इन्वेस्टर्स ने भाग लिया

जयपुर,25 सितंबर,2022।(निक वाणिज्य) भारत के सबसे तेजी से बढ़ते निवेश मंच ग्रो Groww (ग्रो) की ओर से जयपुर में आयोजित अपनी 50वीं वित्तीय शिक्षा, अब इण्डिया करेगा इन्वेस्ट सम्पन्न हो गई। अब इण्डिया करेगा इन्वेस्ट का यह संस्करण ग्रो द्वारा आयोजित मल्टी-सिटी अभियान के सबसे बड़े कार्यक्रमों में से एक था और जयपुर के खुदरा निवेशक समुदाय के 2000 से अधिक उपस्थित लोगों ने इसमें भागीदारी की।
वर्ष 2020 में शुरू हुए अब इण्डिया करेगा इन्वेस्टमेंट मीट का मकसद पूरे देश में भारतीयों के लिए व्यक्तिगत वित्त और निवेश को आसान बनाना है। कार्यक्रम में, प्रतिभागियों को वित्तीय नियोजन से परिचित कराया जाता है और उन्हें निवेश के विभिन्न तरीकों के बारे में शिक्षित किया जाता है। व्यक्तिगत खुदरा निवेशकों के प्रश्नों का समाधान निवेश विशेषज्ञों द्वारा दिए गए सत्रों के माध्यम से किया जाता है।

इस अवसर पर ग्रो के को फाउण्डर और सीओओ श्री हर्ष जैन ने कहा हमने जयपुर में ‘अब इण्डिया करेगा इन्वेस्ट’ कार्यक्रम के लिए जबरदस्त प्रतिक्रिया देखी, और शहर के 2,000 से अधिक रिटेल इन्वेस्टर्स से जुड़कर प्रसन्नता हुई। ग्रो के लिए जयपुर राजस्थान के प्रमुख बाजारों में से एक है, जहां कामकाजी पेशेवरों, उद्यमियों और छात्रों का एक मजबूत आधार है। उन्होंने कहा हमने इस बाजार में अपने यूजर बेस में लगातार वृद्धि देखी है, क्योंकि बढ़ती संख्या में युवा पेशेवर अब सुरक्षित वित्तीय भविष्य के लिए निवेश के महत्व को महसूस करने लगे हैं।

Open link for this news

Subscribe share aur like Karen

उन्होंने कहा इस पहल के माध्यम से, हमें आगन्तुक निवेशकों को वित्तीय नियोजन के महत्व और वेल्थ क्रिएशन के अवसरों के बारे में शिक्षित करने का अवसर मिला। जयपुर में जोरदार उपस्थिति को देखते हुए, हमें पूरा विश्वास है कि यहां से शहर की निवेशक भागीदारी निश्चित तौर पर बढ़ेगी। हमें उम्मीद है कि हमारे निवेशकों ने सत्र को व्यावहारिक पाया है, और उनके उत्साह ने हमें भारत के खुदरा निवेशकों को उनके धन को अधिकतम करने के लिए सही ज्ञान और उपकरणों के साथ सशक्त बनाने के अपने मिशन को जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया है।

    ग्रो ने टियर टू और थ्री बाजारों को लक्षित किया है जो खुदरा निवेशकों की भागीदारी और विकास के लिए एक उच्च क्षमता का प्रदर्शन करते हैं, जिससे राष्ट्रीय