परम्परा का निर्वहन करते हुए,ठिकाना श्री गोविन्द देव जी मंदिर व आर्ष संस्कृति दिग्दर्शक ट्रस्ट ने एक जोड़े का विवाह कराया सम्पन्न,,

1287

जयपुर 29 मई2020।(निक सामाजिक)ठिकाना मंदिर श्री गोविंददेवजी और आर्ष संस्कृति दिग्दर्शक ट्रस्ट की ओर से शुक्रवार को बनीपार्क के अग्रसेन हाउस में आर्थिक रूप से कमजोर ब्राह्मण समाज के एक जोड़े का पाणिग्रहण संस्कार संपन्न कराया गया। गत वर्ष गोविंददेवजी मंदिर में कमजोर आर्थिक स्थिति वाले ब्राह्मण परिवारों की कन्याओं का सामूहिक विवाह सम्मेलन की परंपरा शुरू की थी। इस साल कोरोना संक्रमण के चलते चारदीवारी में कर्फ्यू के कारण सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित नहीं किया जा सका, इसलिए एक जोड़े का विवाह कराकर इस परंपरा का निभाया गया।
वधु अन्नू शर्मा पुत्री स्व.सुभाष शर्मा निवासी ब्रह्मपुरी और वर रामनारायण शर्मा पुत्र स्व. लखपत शर्मा निवासी सीकर ने एक-दूसरे को पुष्पहार पहनाकर और फेरे लेकर जीवन साथी स्वीकार किया। इससे पूर्व कौसलेन्द्र जैमिनी ने वैदिक विधि से पाणिग्रहण संस्कार संपन्न करवाया। अजय शर्मा ने कन्यादान दिया। सीकर से आई बारात को कन्या पक्ष के लोगों ने स्वागत सत्कार किया। गणेश पूजन, थाम पूजन, छिंवाला की रस्में भी विधि-विधान से विवाह स्थल पर हुई।
गोविंददेवजी मंदिर के प्रबंधक मानस गोस्वामी और सरस परिकर के प्रवक्ता प्रवीण बड़े भैया ने वर-वधु को ठाकुरजी का चित्र, दुपट्टा पहनाकर आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर द्वारकाधीश मंदिर चौड़ा रास्ता से कानन भट्ट ने कन्यादान व आशीर्वाद प्रदान किया।

आर्ष संस्कृति दिग्दर्शक ट्रस्ट के विजय शंकर पांडेय ने बताया कि समाजसेवी रमेश नारनौली, संत कुमार खंडाका, सुरेश टाक और सुभाष सामरिया सहित अनेक विशिष्ट लोगों ने भी नवदम्पति के सुखद वैवाहिक जीवन की कामना के साथ पुष्प वर्षा कर आशीर्वाद प्रदान किया। विवाह की सभी रस्में आयोजन स्थल पर उचित दूरी, मास्क और सेनिटाइजेशन के साथ निभाई गई। सभी परिजनों ने विवाह के दौरान मुंह पर मास्क लगाए रखा।