कृष्णा पूनिया जयपुर ग्रामीण की तस्वीर बदलने को तैयार,,उमड़ा जन सैलाब,गहलोत, सचिन ने समर्थन में की सभा,,

159

असत्य बातें करते हैं प्रधानमंत्री मोदी: गहलोत

बानसूर और सांभरलेक में की कृष्णा पूनिया के समर्थन में जनसभा,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

जयपुर 2 मई2019।(निक राजनीतिक) मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असत्य व झूठी बातें करके देश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह उनके पद की गरिमा के अनुकूल नहीं है। यह आपकी चाल है और इसे हम किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने देंगे। गहलोत गुरुवार को जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट की कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा पूनिया के समर्थन में बानसूर व सांभरलेक में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने कल भी कहा था और आज भी कहता हूं कि मच्छर को कपड़े पहनाना और हाथी को झूलाना संभव नहीं है, उसी तरह मोदी से सच बुलवाना असंभव है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में भय व घृणा का कोई स्थान नहीं है, लेकिन ये लोग इसी रास्ते पर चलकर सत्ता पाना चाहते हैं। मोदी पिछले पांच सालों से लगातार यह कह रहे हैं कि 76 साल में कांग्रेस ने देश में कुछ नहीं किया। जो पुराने लोग हैं, वो जानते हैं कि हमारे यहां सुई तक नहीं बनती थी। न स्कूल थे और न ही अस्पताल। बिजली को लोग जानते तक नहीं थे, लेकिन आज चारों तरफ स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय खुले हुए हैं। देश में जगह-जगह औद्योगिक कारखाने लगे हैं, ये सब कांग्रेस की देन हैं। अब उनको ये सब दिखाई नहीं देता तो हम क्या कर सकते हैं।

विज्ञान और तकनीक ने काफी प्रगति की है। इंदिरा जी के जमाने में हम चांद पर पहुंच गए थे। उन्होंने 1972 की लड़ाई में पाकिस्तान से हमें जीत दिलाई। पाकिस्तान से अलग कर बांग्लादेश बनाया, जिस पर भाजपा के शीर्ष नेता अटलबिहारी वाजपेयी ने उन्हें दुर्गा की उपाधि दी। 1965 में हमारे प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री ने पाकिस्तान से युद्ध जीता। जय-जवान, जय किसान का नारा दिया, लेकिन हमने कभी भी सेना के शौर्य व पराक्रम को अपना नहीं बताया। इंदिराजी और राजीव जी ने देश के लिए बलिदान दे दिया, लेकिन अपनी नीतियों और सिद्धांतों से कभी भी समझौता नहीं किया। इंदिरा जी ने खालिस्तान नहीं बनने दिया, चाहे इसके लिए उनकी जान चली गई। वो कहती थीं कि मेरी हत्या हो सकती है, लेकिन मेरे खून का कतरा-कतरा देश के काम आएगा। पांच साल से मोदी प्रधानमंत्री हैं, लेकिन उन्होंने इन दोनों के लिए अच्छाई के एक शब्द नहीं बोले हैं।

जुमलेबाजी से हासिल करना चाहते हैं सत्ता

गहलोत ने कहा कि चुनाव में यह होता है कि आप अपनी उपलब्धियां और योजनाएं बताएं। लोकतंत्र में वोटों का राज होता है। जनता ही जर्नादन होती है। हमने वर्षों से इसे बनाए रखा है, लेकिन ये लोग झूठे जुमले फेंककर सत्ता पर काबिज होना चाहते हैं। आपको याद होगा 2014 में उन्होंने क्या-क्या वादे किए थे। प्रत्येक व्यक्ति के खाते में 15-15 लाख रुपए डालने, दो करोड़ युवाओं को प्रतिवर्ष रोजगार देने, कालाधन वापस लाने, भ्रष्टाचार मुक्त भारत, बुलेट ट्रेन, स्मार्ट सिटी, लेकिन एक भी वादे पूरे नहीं किए। सिर्फ जुमलेबाजी की, लेकिन अब पोल खुल चुकी है। जनता अब इनको जवाब देने को तैयार बैठी हुई है।

18 लाख किसानों के हुए कर्जे माफ

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने 18 लाख किसानों के कर्जे माफ किए हैं, लेकिन प्रधानमंत्री कहते फिर रहे हैं कि एक भी किसान का कर्ज माफ नहीं किया। यह गलत बात है। उन्हें इस तरह झूठ नहीं बोलना चाहिए। अभी हमारी सरकार बने तीन माह हुए हैं। बीच में चुनाव आ गए। आचार संहिता लग गई। मैं यह कहना चाहता हूं कि सभी किसानों के कर्जे माफ होंगे। हमारी राष्ट्रीयकृत बैंकों से बातचीत चल रही है। हमारी सरकार ने पांच साल तक बिजली की दरें नहीं बढ़ाने का फैसला किया है। एक लाख बिजली कनेक्शन मुफ्त में देने का वादा किया है। इस पर काम चल रहा है। पानी का बिल नहीं आएंगे, इस संबंध में फैसला हो चुका है। पशुपालकों को दूध डेयरियों को देने पर दो रुपए प्रति किलो बोनस दे रहे हैं। गरीबों को एक रुपए किलो अनाज दिया जाएगा। कैंसर, किडनी, हार्ट की बीमारियों की दवाईयां मुफ्त में देने की हमारी योजना है।

न्याय योजना गरीबी दूर करने का बड़ा प्रोग्राम

गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना लागू करने की बात पार्टी के घोषणा-पत्र में कही है। इसके तहत निर्धन वर्ग के पांच करोड़ लोगों को प्रतिवर्ष 72 हजार रुपए दिए जाएंगे। यह गरीबी हटाने का बहुत बड़ा प्रोग्राम है। कांग्रेस सरकार आएगी तो एक राष्ट्र, एक टैक्स नीति बनाई जाएगी। इनके जीएसटी और नोटबंदी ने काफी परेशानियां पैदा की हैं। कहते थे नोटबंदी से आतंकवाद व नक्सलवाद खत्म हो जाएगा, लेकिन इसका जनता को कोई फायदा नहीं मिला। किसानों के लिए हमने अलग से बजट लाने का फैसला किया है। बेरोजगारों को हमने घोषणा-पत्र में 30 लाख नौकरियां देने का वादा किया है और सरकार बनते ही इसको पूरा करेंगे। इज आॅफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए हमारी पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि आप कोई भी बिजनेस करें आपको तीन साल तक कोई भी सरकारी अनुमति नहीं लेने पडेÞगी। इसकी शुरुआत हमने राजस्थान से कर दी है। राजस्थान सरकार ने अध्यादेश के जरिए इसे लागू कर दिया है। आचार संहिता खत्म होने के बाद विधानसभा में कानून बना दिया जाएगा।

मोदी लाखों साल जिएं पर हिसाब तो देना पड़ेगा,,,,,

बानसूर की जनसभा में उपमुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि मोदी यह आरोप लगाते हैं कि हमारी पार्टी सपने में उन्हें मारने के बारे में सोचती है। पायलट ने कहा कि प्रधानमंत्री के लंबी आयु की कामना करते हैं। हम चाहते हैं कि वो लाखों साल जिएं और साल के दिन हजारों हों, लेकिन उन्हें अपना रिपोर्ट कार्ड तो बताना ही होगा। वो रोज राजस्थान में सभाएं कर रहे हैं, लेकिन यह नहीं बताते कि उन्होंने राजस्थान के लिए पांच सालों में क्या किया। कितने अस्पताल खोले, कितने स्कूल खोले। कितने उद्योग खडेÞ किए, बल्कि इनकी जगह हिंदु-मुसलमान की बात करके देश में भय का माहौल बनाने में लगे हुए हैं। मोदी जज्बातों से खिलवाड़ करके वोट लेना चाहते हैं। यह अच्छी बात नहीं है। केंद्र और राज्य में सरकार होने के बावजूद राजस्थान का भला करने में नाकाम रहे। सभा में कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा पूनिया, कृषिमंत्री लालचंद कटारिया, मोटर गैराज मंत्री राजेंद्र यादव, डॉ. कर्णसिंह यादव, विधायक शकुंतला रावत, बाबूलाल नागर, डॉ. हरि सिंह, मनीष यादव, नसीम अख्तर सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।