युवक की दिनदहाड़े शहर में गोली मारकर हत्या करने में मुख्य मास्टरमाइंड समेत चार बदमाश गिरफ्तार,,

117

झालावाड़ 26 अक्टूबर 2022।(निक क्राइम) कोतवाली थाना क्षेत्र के मामा भांजा चौराहे के पास पुरानी रंजिश के चलते सोमवार को बदला लेने की नीयत से दिनदहाड़े युवक की गोली मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी नरेश गुर्जर समेत 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्तों से वारदात में शामिल अन्य बदमाशों तथा घटना के अन्य बिंदुओं के बारे में पुलिस अनुसंधान कर रही है।

झालावाड एसपी ऋचा तोमर ने बताया कि फायरिंग के आरोपी असलुप उर्फ काबरा पुत्र मोहम्मद ताहिर व पीयूष उर्फ छोटू पुत्र राजेंद्र जोशी निवासी नयापुरा जामा मस्जिद के पास तथा घटना के मास्टरमाइंड एवं अभियुक्तों को हथियार उपलब्ध कराने वाले दो भाइयों नरेश गुर्जर व संजू गुर्जर पुत्र कालूलाल निवासी चंदा महाराज की पुलिया के पास नला मोहल्ला को गिरफ्तार किया गया है। घटना के संबंध में 24 अक्टूबर को मृतक युवक आरिफ बेग के पिता वाहिद बैग निवासी पीलखाना ने रिपोर्ट दी थी।
रिपोर्ट में पिता वाहिद बेग ने बताया कि उसका बेटा आरिफ बेग आज दोपहर को अपने दोस्त लवी उर्फ जुबेर की बाइक पर मामा भांजा चौराहे की तरफ गया था। दोपहर करीब 3:30 बजे असलुप व उसके साथी छोटू जोशी ने जुबेर की बाइक को रोका। जुबेर पर दो फायर करने से वह मौके से भाग गया। दोनों ने आरिफ बेग के गोली मार दी। पिता ने नरेश गुर्जर को घटना का साजिशकर्ता बताया था। जिसने चौथ वसूली के लिए इन दोनों को भेज कर हत्या करवाई थी।

    घटना की गंभीरता को देख बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए एसपी तोमर ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चिरंजीलाल मीणा व सीओ ब्रजमोहन मीणा के सुपर विजन तथा थाना अधिकारी चंद्र ज्योति उपाध्याय के नेतृत्व में थाना कोतवाली से अलग-अलग टीम गठित की। टीम ने बदमाशों के फोटो प्राप्त कर कंट्रोल रूम को सूचना देकर सभी थाना क्षेत्रों में नाकाबंदी कराई गई। कोतवाली पुलिस ने तरित कार्रवाई कर घटना के साजिशकर्ता समेत चारों आरोपियों को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चिरंजीलाल मीणा एवं कांस्टेबल राजेश स्वामी की विशेष भूमिका रही है।
    ————–