मुख्य नियंत्रक प्रवर्तन जेडीए रघुवीर सैनी से जब अवैध निर्माण पर उनके एक अधिकारी पर लगे आरोप का वर्जन जानना चाहा तो बौखलाहट में सैनी चिल्लाने लगे और दे डाली पत्रकारों को इलाज करने की धमकी,,

680

जयपुर 9 मार्च 2022।(निक यूडीएच) न्यू इंडिया खबर के एडिटर एवं पीरियोडकल प्रेस ऑफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय जब हीरापुरा विस्तार में चल रहे अवैध निर्माण की जानकारी देने व कॉलोनी के निवासियों और पड़ोसियों द्वारा जेडीए के अधिकारी पर रुपए लेकर अवैध निर्माण करवाने के आरोप का खंडन करने बाबत रघुवीर सैनी से उनका वर्जन लेने गए तो सैनी बौखलाहट के साथ चिल्लाने लगे और कहने लगे मैं कोई वर्जन नहीं दूंगा और पत्रकारों को देख लेने व उनका इलाज करने की धमकी देने लगे। गवाह बने वहां उपस्थित जन और उनके अधिकारी।

सन्नी आत्रेय ने सैनी से कहा कि आप के एक अधिकारी सुरेश यादव पर सीधे-सीधे वहाँ के पड़ोसियों ने उस पर मिलीभगत के आरोप लगाए हैं तो हमें सच्चाई जानने के लिए आपका वर्जन आवश्यक है।
इस पर सैनी और भडक गए और अपना आपा खो बैठे जबकि उच्च अधिकारी होने के नाते उन्हें मामले को दिखाने की बात करनी चाहिए थी।
वहां उपस्थित लोगों ने कहा इन्हें ऊंची पहुंच और रिश्तेदारी का गुरूर है। आपको बता दें रघुवीर सैनी 3 दिन पहले एक पत्रकार को फोन पर धमका चुके हैं और इससे पहले भी कुछ महीने पहले एक और पत्रकार को धमकाने व गाली गलौज का मामला लोकायुक्त में विचाराधीन है।
मतलब ऊंची पहुंच और रिश्तेदारी के चलते सैनी किसी को कुछ नहीं समझते। जबकि पत्रकार अपना कर्तव्य निभा रहा था जब किसी पर सीधे आरोप लगे हैं ऑन कैमरा तो सच्चाई जानने के लिए संबंधित अधिकारी का वर्जन लेना आवश्यक समझते हुए वरिष्ठ पत्रकार सन्नी आत्रेय ने सवाल पुछा था। अब आप स्वयं समझे सैनी क्यों बौखलाए ? क्यों चिल्लाने लगे?

जेडीए में दिया हुआ शिकायत पत्र,

    मामला है हीरापुरा विस्तार अजमेर रोड 200 फीट बाईपास गणेश नगर बी प्लॉट नंबर 3 का । न्यू इंडिया खबर ने कुछ महीने पहले भी प्लॉट नंबर 3 के पड़ोसियों की शिकायत पर इसकी खबर चलाई थी वहां के बाशिंदे लालचंद यादव और केदार कान्डा ने न्यू इंडिया खबर को बताया था की जीरो सेट बैक पर निर्माण किया जा रहा है। आगे छज्जा भी निकाल लिया है और दोनों तरफ साइड बैक नहीं छोड़ा गया है ।
    प्लॉट नं 4 के मालिक केदार कान्डा ने किशनलाल पर गम्भीर आरोप लगाते हुए उस सनय कहा था की किशन लाल अनुसार उसके कई आई ए एस से संबंद्ध है ब और साथ ही किशन लाल जान से मारने की धमकी देने की बात भी कर रहा है( विडियो संलग्न) ।
    कुछ दिनों बाद निर्माणकर्ता किशन लाल यादव ने समझौते की दृष्टि से पास ही के प्लॉट नंबर 4 के मालिक केदार कांडा उनके वकील व पड़ोसी लालचंद यादव के साथ मीटिंग की थी। जिसमें केदार कांडा और लालचंद यादव की बातों को मान लिया गया था और किशन लाल यादव द्वारा यह कहा गया था कि साइड बैक छोड़ दिया जाएगा और छज्जा तोड़ दिया जाएगा। लेकिन अभी कुछ दिनों पूर्व न्यू इंडिया खबर के पास उनके पड़ोसी लालचंद यादव और भंवर यादव का फोन आया कि वह बेसमेंट के साथ चौथी मंजिल डाल रहा है और अपने वादे से मुकर गया है। जब दोनों की बातों को रिकॉर्ड करते हुए इस बाबत खबर चलाई तो उसमें लालचंद यादव और भंवर यादव दोनों ने जेडीए के अधिकारी सुरेश पर रुपए लेकर अवैध निर्माण करवाने की बात कही । लालचंद ने कहा की हमारी कॉलोनी की पूरी लाईन का हमारे सब का मकान दब गया है,हवा पानी रुक गई है और हम सब परेशान हैं। बावजूद इसके किशन लाल यादव नियमानुसार निर्माण करने को राजी नहीं है। ऊपर से ऊंचे रसूख से संबंधों की धमकी देता है। पड़ोसियों ने कहा हमने 2/3 बार जेडीए में शिकायत की है पर उस पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही।

    मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ रघुवीर सैनी

सन्नी आत्रेय ने अपने साथ हुई अभद्रता और पत्रकारोँ का इलाज करने की धमकी देने के मद्देनजर मुख्यमंत्री व राज्यपाल को शिकायत लिखित में देदी है। गौरतलब है लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को दबाने की कोशिश के चलते पीपीआई मैं 27 फरवरी को पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग के लिए विशाल धरना दिया था और इसी क्रम में अब सभी जनप्रतिनिधियों को कानून तुरंत लागू करने के लिए मांग पत्र सौंपा जा रहा है ।
5 मार्च को चलाई खबर,जिससे बौखलाए सैनी

जॉन 7, जयपुर प्राधिकरण के अधिकारी सुरेश यादव पर लगे रुपए लेकर अवैध निर्माण करवाने के आरोप,, 200 फीट बाईपास, अजमेर रोड, हीरापुरा विस्तार, गणेश नगर बी, प्लॉट नंबर 3 का है मामला,मुख्य नियंत्रक,प्रवर्तन रघुवीर सैनी से होंगे सीधे सवाल जल्द,,

जॉन 7, जयपुर प्राधिकरण के अधिकारी सुरेश यादव पर लगे रुपए लेकर अवैध निर्माण करवाने के आरोप,, 200 फीट बाईपास, अजमेर रोड, हीरापुरा विस्तार, गणेश नगर बी, प्लॉट नंबर 3 का है मामला,मुख्य नियंत्रक,प्रवर्तन रघुवीर सैनी से होंगे सीधे सवाल जल्द,,

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत,मंत्री शांति धारीवाल एवं जेडीसी गौरव गोयल मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच कराएं और ऐसे अधिकारियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करें और जेडीए अधिकारियों पर समय-समय पर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों पर लगाम लगाएं।

अभद्रता की घटना के तुरंत बाद न्यू इंडिया खबर के एडिटर और पीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष सन्नीआत्रेय ने मुख्यमंत्री और माननीय राज्यपाल को रघुवीर सैनी के खिलाफ शिकायत पत्र दीया।