राह चलती युवतियों से गैग रेप एवं पेट्रोल पम्प लूट की योजना बनाने में 3 और अभियुक्तो को किया गिरफ्तार,,

191

प्रतापगढ़ 22 जनवरी 2022।(निक क्राइम)जिले में राह चलती आदिवासी युवतियों को किडनैप कर गैग रेप करने एवं पेट्रोल पम्प लूट की योजना बनाने वाले सनसनीखेज मामले में पुलिस ने 03 ओर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गैंग रेप में शामिल फरार अभियुक्त जमना शंकर मीणा पुत्र राम लाल निवासी चितौडिया थाना धरियावद को मुम्बई से तथा पेट्रोल पंप में डकैती की योजना मामले में अभियुक्त प्रकाश मीणा निवासी चितौडिया व एक बाल अपचारी को नजदीकी जंगल से पकड़ा गया।
प्रतापगढ़ एसपी अमृता दुहन ने बताया कि 18 जनवरी को थाना धरियावद क्षेत्र में एस आर पेट्रोल पंप में डकैती डालने की योजना बना रहे चार युवकों ब्रह्मपुरी थाना धरियावद निवासी पुष्कर कीर पुत्र राजू, दीपक कीर पुत्र हीरालाल व दीपक कीर पुत्र मोहन लाल एवं रेनियामगरी थाना धरियावद निवासी पालिया उर्फ प्रकाश मीणा पुत्र धनराज को धरियावद पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर एक बाल अपचारी को भी निरुद्ध कर अवैध हथियार बरामद किए गए थे। जिनके पास मिले मोबाइल में राह चलती आदिवासी युवतियों से गैंग रेप करने की पुष्टि हुई। गैंगरेप की घटनाओं में दीपक कीर पुत्र हीरा लाल, दीपक कीर पुत्र मोहन लाल, एक बाल अपचारी व जमना शंकर शामिल थे। 19 जनवरी को गिरफ्तार पांचों अभियुक्तों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजा गया। फरार चल रहे जमना शंकर, प्रकाश मीणा व अन्य की तलाश की जा रही थी

*घटना का विवरण* 22 दिसम्बर की रात करीब दस बजे एक नाबालिग आदिवासी लड़की अपने परिचित के साथ रिश्तेदारी में जा रही थी। एस.आर पेट्राॅल पम्प के पास रास्ते में बाईक पर सवार दो नकाबपोशों ने उन्हें रूकवाने का प्रयास किया। स्थिति को भाप कर उन्होंने अपनी मोटरसाईकिल भगाई मगर नकाबापोश अभियुक्तों ने लाठी से प्रहार कर उन्हें गिरा दिया। अभियुक्तों ने नाबालिग लडकी के परिचित के साथ लूट की और मारपीट करके मौके से डरा धमका कर भगा दिया तथा नाबालिग को जबरन अपहरण कर सुन सान जगह पर ले जाकर बारी बारी कई बार बलात्कार किया। बलात्कार करते हुये नाबालिग पीड़िता का मोबाईल से वीडियो बनाया व विरोध करने पर पीड़िता के साथ मारपीट की गई। इसके बाद पीड़िता को धमकी दी की अगर उक्त घटना के बारे में किसी को बताया तो वीडियो वायरल कर देगे। उक्त घटना पर थाना धरियावद में प्रकरण पंजीबद्व किया गया था।
घटना की गम्भीरता को देखते हुए एसपी डाॅ.अमृता दुहन के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चिरंजी लाल मीणा एवं सीओ संदीप कुमार के मार्गदर्शन में थानाधिकारी धरियावद कमल चन्द, थानाधिकारी पारसोला पेशावर खान, एएसआई थाना मुगाणा जयपाल सिंह व साईबर सैल से चार टीमें गठित गई थी। आदिवासी नाबालिग लड़की के साथ गैंग रेप की घटना पुलिस के लिए चुनौती थी। इसी दौरान धरियावद थानाधिकारी कमल चन्द की टीम ने मुखबिर की सूचना पर खण्डहरनुमा मकान पर दबिश देकर मकान के अन्दर छिपे नाबालिग सहित पांच बदमाशों को अवैध हथियार सहित पेट्रोल पम्प में डकैती डालने की योजना बनाते समय गिरफ्तार कर लिया। पुलिस रेड के दौरान उनके तीन चार साथी फरार हो गए थे।

    गिरफ्त में आए इन अभियुक्तों के पास मिले मोबाइल से आदिवासी युवतियों के साथ गैंगरेप की घटना के आवश्यक सबूत मिले। अभियुक्तों से अनुसन्धान व पुछताछ से पाया गया कि उन्होंने गैग बनाकर धरियावद के क्षैत्र के आस पास सुन सान रास्तों पर आने जाने वाले गरीब आदिवासी युवक व युवतियों को रोककर युवको से लूट करते एवम मारपीट कर भगा देते एवम आदिवासी युवतियों का जबरन अपहरण कर दुर दराज सुन सान ईलाकों पर ले जाते और उनके साथ बारी बारी से गैंग रेप करते। रेप करते हुये युवतियों का अश्लील वीडियो बना कर किसी को बताने पर वायरल करने की धमकी देतें। युवतियों द्वारा विरोध करने पर युवतियों के साथ मारपीट करते। इस प्रकार से अभियुक्तों द्वारा अनेक घटनाऐं की गई। जिस सम्बन्ध में मुल्जिमानों से गहन अनुसन्धान किया जा रहा है।
    अभियुक्तों द्वारा पारसोला जिला प्रतापगढ व साबला जिला डूगरपुर में चैन स्कैचिग की घटना भी की है। आरोपी चोरी, नकबजनी, गैग रेप के आदतन अपराधी है जिससे जिले में हो रही चोरी, नकबजनी, लुट, डकैती, रेप सम्बन्धी कई मामले खुलने की सम्भावना है। इस मामले में साइबर सेल में कांस्टेबल रमेश चंद्र की विषेष भुमिका रही है।
    ————