सहायक कोषाधिकारी को उनकी कार में बंधक बनाकर 05 लाख रूपये की फिरौती मांगने के मामले में बाल अपचारी निरुद्ध,,

112

सीकर 2 जनवरी 2021।(निक क्राइम) जिला ट्रेजरी में सहायक कोषाधिकारी को उनकी कार में बंधक बनाकर 05 लाख रूपये की फिरौती मांगने वाले अपराधियो में से एक नाबालिक को उद्योग नगर थाना पुलिस ने निरूद्व किया है। घटना में शामिल तीन अन्य को नामजद कर लिया गया है। जिनकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।सीकर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि गठित टीम के द्वारा मामले में त्वरित करवाई करते हुये सहायक कोषाधिकारी को उसी कि कार में बंधक बनाकर 05 लाख रूपये कि फिरौती मांगने व जान से मारकर किडनी बेचने कि धमकी देकर मारपीट कर रूपये मोबाईल, आईकार्ड व अंगूठी छिनने वाले अपराधियो में से एक नाबालिक बालक को निरूद्व किया गया है।

घटना की जानकारी देते हुए एसपी राष्ट्रदीप ने बताया कि 31 दिसम्बर को
सीकर ट्रेजरी में सहायक कोषाधिकारी श्रीनिवास जाखड (57) निवासी जाट कोलीनी नवलगढ रोड ने एक लिखित रिपोर्ट देकर बताया कि कल शाम 4 बजे वे अपनी निजी कार से जयपुर झुन्झूनू बाईपास की ओर जा रहे थे। बाइक पर आए चार जनों ने हथियार दिखाकर जान से मारने की धमकी देकर गोरियां होते हुए सांगरवा से आगे ले गये। वहां मोबाईल व गाडी की चाबी छीन ली। उसे पीछे की सीट पर बैठा कर दो जने उसके दोनो तरफ बैठ गये और पीटते हुए बोले 5 लाख दे दो तो जान बक्श देगे नही तो यही मार देंगे। वो चारो शराब पीते रहे और बीच बीच में गालिया देते हुए पैसे के लिए बोलते रहे। उसे उताकर वीडियो भी बनाया। 4-5 घंटे पहाडी रास्तो में घूमाने के बाद उदयपुरवाटी ले गये। जहां गाडी में पैट्रोल डलवाकर नीमकाथाना की ओर निकल लिये।
रास्ते में गाडी का एक्सीडेन्ट हो गया और टायर फट गया तब किसी को बुलाकर टायर बदलवाया। लेकिन गाडी नही चली। वो दूसरी गाडी के लिए बार-बार काल करते रहे। लगभग घंटे भर बाद एक कार आई जिसमें तीन आदमी थे। उन्होने उसे बदमाशो से छुडाया ओर एक होटल पर लाये। जहाँ घर पर बात कर सीकर से भतीजी दामाद को बुलाया। रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रामचन्द्र मूण्ड के निर्देषन व सीओ शहर वीरेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में थानाधिकारी उधोग नगर सीकर पवन कुमार चौबे व अन्य की टीम गठित की गई।

    प्रकरण दर्ज होने के बाद गठित टीम द्वारा परिवादी श्रीनिवास को साथ लेकर अपहरण के स्थान से लेकर जहां कार दुर्धटनाग्रस्त होकर रूकी वहां तक के रास्तो का रूटचार्ट तैयार कर रास्तो में आने वाले सीसीटीवी कैमरे खंगालेे गये व जिन जिन स्थानो पर अपराधी रूके व शराब वगैरा ली उन स्थानो कि तस्दीक की गई। अपराधियो का जिन व्यक्तियो से सम्पर्क हुआ उनसे पूछताछ कि गई तथा मोबाईल काॅल डिटेल प्राप्त की गई। इन तथ्यो के आधार पर घटना करने वाले चार आरोपियो को नामजद किया गया व उनके सम्बन्धित ठिकानो पर पुलिस टीम द्वारा दबिष दी जाकर तलाष कि गई व घटना में शरीक एक नाबालिक को निरूद्व किया गया जिससे तफ्तीष जारी है तथा अन्य तीन आरोपियो कि तलाष जारी है।
    ————