पुलिस कमिश्नर श्रीवास्तव ने 6 नाईट हॉक इन्टरसेफ्टर मोटरसाइकिलों को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना,,

109

जयपुर 21 दिसम्बर 2021।(निक विशेष) पुलिस आयुक्त आनन्द श्रीवास्तव ने यादगार भवन से नाईट हॉक लान्चिंग कार्यक्रम में 06 नाईट-हॉक इन्टरसेप्टर मोटरसाईकलों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना
किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पुलिस आयुक्त जयपुर आनन्द श्रीवास्तव ने कहा कि यातायात व्यवस्था महानगरो की सबसे बड़ी चुनौती है। वाहनो की संख्या मे निरन्तर वृद्धि हो रही है। जयपुर शहर राजधानी होने के कारण यहां यातायात व्यवस्था का दबाव ज्यादा है। यातायात पुलिस जयपुर के निवासियों को सुगम यातायात व्यवस्था उपलब्ध करवाने के लिये प्रयासरत है। पहले की तुलना मे संसाधन भी बढाये गये है। यातायात व्यवस्था को तकनीक की सहायता से सुचारू रूप से संचालित किया जा सकता है। यह कार्यक्रम उसी दिशा मे प्रयास है।
मोटरसाईकल पर लगी लेजर गन नाईट विजन से युक्त है। बाईक को तंग गलियो मे भी ले जाना अधिक सुविधाजनक रहेगा। इसी के साथ-साथ एस.के फाईनेंस द्वारा यातायात नियमो की जागरूकता बढाने के लिये पोटा हट, बेरिकेड्स व ई-रिक्शा उपलब्ध करवाये गये है। इनसे यातायात पुलिस की कार्यक्षमता मेगुणात्मक सुधार होगा। उन्होने सहयोग करने के लिये एस.के फाईनेंस के नितेश गहलोत एवं कु.पूजा मेहता को धन्यवाद दिया।

पुलिस उपायुक्त यातायात श्वेता धनखड ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा कि जनता की मांग पर गति सीमा को नये रूप में निर्धारित किया गया है। इसके लिये 8दिसंबर 2021 के नोटिफिकेशन में स्पीड लिमिट प्रकाशित हो चुकी है। इसमे एलिवेटेड रोड, स्कूल और हॉस्पिटल को भी शामिल किया गया
है।
आज का कार्यक्रम मोटरसाईकल इन्टरसेप्टर से सम्बन्धित है।उन्होने
बताया कि रात के समय तेज रफ्तार से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों पर कार्यवाही करने के लिए यातायात पुलिस में नई नाईट-हॉक इन्टरसेप्टर मोटरसाईकल शामिल की गई। मोटर साईकल पर स्पीड उपकरण स्थापित किये जाने से इसके द्वारा शहर के मार्गो, एलीवेटेड, ऑवरब्रिज आदि स्थानों पर निर्धारित
गति से तेज गति में चलाने वाले वाहन चालकों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी और तेज गति से होने वाली सडक दुर्घटनाओं पर नियंत्रण हो सकेगा। देश में पहली बार जयपुर कमिश्नरेट की ट्रेफिक पुलिस बाईक पर पहली बार नाईट विजन लेजर स्पीड सिस्टम स्थापित करवाया गया है। इस मोटरसाईकल पर यातायात पुलिस कर्मी को स्पीड की कार्यवाही में सुविधा के लिए दो स्थानों (हैण्डल एवं पीछे की तरफ) पर लेजर गन माउण्ट करने की सुविधा उपलब्ध करवाई गयी है। यातायात पुलिस जयपुर द्वारा चिन्हित स्थानों पर नाईट-हॉक द्वारा निर्धारित गति
सीमा से तेज गति में चलाने वाले वाहन चालकों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी। ऑपरेटर द्वारा वाहन की रिकार्डिंग कर आगामी चैक पाईंट पर वाहन की त्वरित फोटो विडियो भेजी जाएगी साथ ही वायरलैस द्वारा सूचित किया जाएगा। वाहन को रूकवा कर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

    यह लेजर गन अत्यधिक सटीक एवं तेज गति मापने में सक्षम है साथ ही इससे उच्च गुणवत्ता वाले फोटो साक्ष्य के तौर पर उपलब्ध हो सकेगे वाईफाई एवं बैक ऑफिस पीसी सॉफ्टवेयर के जरिये ऑनलाईन मॉनिटरिंग की जा सकेगी इस लेजर गन में 30 एक्स ऑप्टीकल जूम लैंस से बेहतर रिजोलेशन की फोटो एवं विडियो मिल सकेगे। वाईफाई फील्ड प्रिटिग फंक्शन की सुविधा से लैस है।