प्रदेश में हिंदी साहित्य को नए आयाम दिये तलवार ने,,

67

जयपुर 22 सितम्बर 2021।(निक साहित्य) वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार स्व. ईशमधु तलवार की स्मृति में श्रमजीवी पत्रकार संघ और कलमकार मंच की ओर से बुधवार को रखी गई श्रद्धांजलि सभा में वरिष्ठ पत्रकारों और साहित्यकारों ने उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर अपने विचार व्यक्त किये। उपस्थित बुद्धिजीवियों ने समवेत रूप से इस बात को स्वीकारा कि विलक्षण प्रतिभा के धनी स्व. तलवार ने पीएलएफ के जरिए प्रदेश में हिंदी साहित्य को नए आयाम दिये और उसे बुलंदियों पर पहुँचाया।

उनके पुत्र अनीश तलवार की मौजूदगी में हुई इस सभा में वरिष्ठ साहित्यकार फारूक आफरीदी, लोकेश कुमार सिंह ‘साहिल’, राजाराम भादू, उमा, तसनीम खान, कलमकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक निशांत मिश्रा, फिल्मकार गजेन्द्र एस. श्रोत्रिय, भागचंद गुर्जर, अशोक राही, वरिष्ठ पत्रकार जगदीश शर्मा, सुनीता चतुर्वेदी, श्रमजीवी पत्रकार संघ के अध्यक्ष हरीश गुप्ता, उपाध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा, पिंकसिटी प्रेस क्लब के अध्यक्ष मुकेश मीणा, महासचिव रामेन्द्र सोलंकी, सुनील शर्मा, मुकेश चौधरी सहित बड़ी संख्या में उपस्थित साहित्यकारों, पत्रकारों व रंगकर्मियों ने अपने उद्बोधन में उनकी यादों को व्यक्त करते हुए श्रद्धासुमन अर्पित किये।

    प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार मिलापचंद डंडिया, सत्य पारीक, साहित्यकार वसंत सकरगाए, विशाल सूर्यकांत, राजेन्द्र कस्वां सहित देश के अनेक वरिष्ठ साहित्यकार एवं पत्रकारों के संवेदना पत्रों का वाचन करते हुए कलमकार मंच के राष्ट्रीय संयोजक निशांत मिश्रा ने स्व. तलवार की स्मृति को चिरस्थायी रखने के लिए कलमकार पुरस्कार में कहानी श्रेणी का प्रथम पुरस्कार ‘ईशमधु तलवार स्मृति पुरस्कार’ के नाम से दिये जाने और उनके कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर कलमकार पत्रिका का विशेषांक प्रकाशित करने की घोषणा की।