जाहिदा खान, सुभाष गर्ग, भजनलाल जाटव, जोगिन्दर अवाना और दिव्या मदेरणा ने खुलेआम पुलिस प्रशासन का दुरूपयोग किया: अरूण चतुर्वेदी,,

334

कई जिलो में कांग्रेस सरकार के मंत्री व विधायकों ने भाजपा प्रत्याशियों के नामांकन खारिज करवाये: अरूण चतुर्वेदी

जयपुर, 03 सितम्बर 2021।(निक राजनितिक)भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी ने भाजपा प्रदेश कार्यालय पर प्रेसवार्ता में पत्रकार बन्धुओं को सम्बोधित करते हुए पंचायत चुनावों में भाजपा के पक्ष में मतदान करने पर आमजन का आभार प्रकट किया।
चतुर्वेदी ने बताया कि 6 जिलों के पंचायत चुनावों में भाजपा के पक्ष में रूझान आयंेगे। सरकार के द्वारा चुनाव में सत्ता का दुरूपयोग करने का प्रयास किया गया। कई जिलों में थाने के इंचार्ज एवं एसडीएम के द्वारा दबाव डलवाकर भाजपा प्रत्याशी के नामांकन वापस करवाये तथा कुछ उम्मीदवारों के स्कूटनी के समय उनके नांमाकन फार्म को खारिज करवाया गया। कई स्थानो पर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों को सरकार के दबाव में गिरफ्तार किया गया, जनता ने अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए मतदान किया।
चतुर्वेदी ने बताया कि भरतपुर के कामां से विधायक जाहिदा की पुत्री, सुभाष गर्ग के रिश्तेदार व उच्चैन में जोगिन्दर अवाना के रिश्तेदार के सामने जिसने फार्म भरा उनपर दबाव डालकर फार्म खारिज करवाया गया। कांग्रेस विधायक दिव्या मदेरणा द्वारा जोधपुर के औसियां के खावडा गांव में 1 घण्टे तक फर्जी मतदान कराया, जिसका वीडियो भी वायरल हुआ है तथा तापू ग्राम पंचायत में भाजपा कार्यकर्ताओं पर चैपहिया वाहन को चढाते हुए जान से मारने का प्रयास किया। कांग्रेस सरकार ने तृतीय श्रेणी के अध्यापकों के स्थानान्तरण आदेश जारी किये गये, जिसके लिए हजारों आवेदन प्राप्त हुए, चुनाव होने के पश्चात शिक्षामंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि आवेदन अधिक आये हंै, इसके लिए हम नियम बनायेंगे। सरकार से हमारी मांग है कि तृतीय श्रेणी के अध्यापकांे के स्थानान्तरण करें।

चतुर्वेदी ने बताया कि वैर से विधायक मंत्री भजनलाल जाटव की पुत्री चुनाव लड रही है, दो दिन पहले रात को पुलिस को लेकर गांव में गये और गाय-भैंसो पर वाहन को चढाया गया। जिसका वीडियो भी वायरल हुआ, जिसके बाद भी प्रशासन ने कोई कार्यवाही नही की और ना ही पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की। भजनलाल जाटव की पुत्री के सामने चुनाव लड रहे प्रत्याशी भंवर सागर जिनके परिवार से प्रधान के प्रत्याशी हो सकते है उनका अपहरण करने का प्रयास किया, वह किसी भी प्रकार से प्रधान का चुनाव नही लड पाये। सिरोही जिले के आबूरोड में जाम्बुडी के बूथ पर पीआरओ नियमों का उल्लंघन किया, भरतपुर के कामां के विधायक जाहिदा ने बूथ पर वर्ग विशेष के लोगों को मतदान करने से रोका गया तथा प्रशासन को सूचना देने के बाद भी फर्जी मतदान करवाया गया।

    चतुर्वेदी ने बताया कि चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए मंत्री परसादी लाल मीणा व आदर्शनगर के विधायक रफीक खान ने विधायक कोष से अनुशंषा की हैै। कई स्थानों पर एसडीएम काउन्टिग एजेन्ट के फार्म को नही ले रहे है, प्रत्याशी स्वयं हमारे समक्ष आकर काउन्टिग एजेन्ट के फार्म पर हस्ताक्षर करें, जबकि ऐसा कोई नियम नही है। जिसकी शिकायत भाजपा द्वारा जिला कलक्टर व निर्वाचन आयोग को की गई है। चुनाव आयोग से हमारी मांग है कि जो प्रतिवेदन प्राप्त हुआ एवं किसी ने आचार संहिता का उल्लंघन किया है उस पर निष्पक्ष जांच व कार्यवाही होनी चाहिए। मतदान की गणना में किसी भी प्रकार का व्यवधान ना हो और किसी भी प्रकार से सरकारी हस्तक्षेप ना हो, यह सुनिश्चित करने का काम चुनाव आयोग करे।