शहीद राजगुरू के जन्मदिन पर पैंथर्स का जनता से निवेदन, गांधारी न बने : शाहिद खान

178

शाहिद खान, महासचिव

जयपुर 25.अगस्त 2021।(निक राजनितिक)राजस्थान प्रदेश नेशनल पैंथर्स पार्टी के महासचिव शाहिद खान एवं राजस्थान प्रदेश पैंथर्स अध्यक्ष अनिल शर्मा ने आज शहीद राजगुरू के 113वें जन्मदिन पर भावभीनी पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने प्रेसवार्ता में भारत की 135 करोड़ जनता से कहा कि गरम दल क्रांतिकारी वीरों के सपने को साकार करें महाभारत की गांधारी न बने। जिस प्रकार गांधारी ने आंखें होते हुए महाराजा धृतराष्ट्र से विवाह होने के बाद अपनी आंखों पर स्वयं सदा के लिए पट्टी बांधी थी, जिसमें अपनों ने अपनों को मारा वैसे ही भारत की जनता ने भी लगता है सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंखों पर पट्टी बांध रखी है।
पूरे भारत में हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है, चाहे वह काला कृषि कानून हो, महंगाई हो, कोरोना की मार से जनता की नौकरी का जाना व हिंदू, मुस्लिम विवाद भी बढ़ना एक तरफ है,

लेकिन सरकार सिर्फ और सिर्फ कुछ-कुछ समय बाद चुनाव करवाकर पैसा पानी की तरह बहा रही है। चाहे जीत हासिल हो या ना हो। सत्ता पाने के लिए हर प्रयास किए जाते हैं,जबकि पिछले तकरीबन 2 सालों से कोरोना जैसी वैश्विक महामारी ने भारत की जनता की कमर तोड़ रखी है। जनता हर तरफ से परेशान है महंगाई की मार से और हिंदू-मुस्लिम विवाद बढ़ रहे हैं, मगर सरकार को कोई भी फर्क नहीं पड़ रहा। सरकार सिर्फ विज्ञापनों पर पैसा खर्च कर रही है।
पैंथर्स पार्टी सबसे निवेदन करती है कि अपनी आवाज को बुलंद करें व खुलकर एक दिन सड़क पर आएं आने वाले 28 सितंबर मंगलवार को शहीदे आजम भगत सिंह के जन्मदिन पर एकजुट होकर सरकार की नीयत और नीति के खिलाफ रोष प्रकट करें। क्या गरम दल

    क्रांतिकारियों ने अपनी जान देश को आजाद कराने के लिए गंवाई थी। आजादी बंदूक वालों से तो मिल गई, मगर संदूक वालों के गुलाम हो गए हैं। हम सब का कर्तव्य बनता है कि उनकी कुर्बानी को व्यर्थ न जाने दें सरकार की जनविरोधी नीति के खिलाफ आवाज बुलंद करें। सरकार हमारे ही मताधिकार से चुन कर आती है, मगर बाद में सब यह बात भूल जाते हैं। भारत की जनता की भलाई के लिए एकजुट होकर सरकार की जनता विरोधी नीतियों का खुलकर विरोध करें।