भगवान महावीर कैंसर चिकित्सालय एंव अनुंसधान केन्द्र में स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले हुए सम्मानित,,

122

जयपुर 16 अगस्त 2021।(निक विशेष)भगवान महावीर कैंसर चिकित्सालय एंव अनुंसधान केन्द्र में स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले मेडिकल और नॉन मेडिकल कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। 20 वर्ष से चिकित्सालय में अपनी सेवाएं देने वाले डॉ पवन अग्रवाल, डॉ पुष्पलता गुप्ता और प्रेमचंद सैनी को गोल्डन ईयर अवॉर्ड से और श्रेष्ठ सेवाओं के लिए डॉ रोहित पारीक को संजीवनी अवॉर्ड से नवाजा गया।
कार्यक्रम की शुरूआत समारोह के मुख्य अतिथि चिकित्सालय अध्यक्ष नवरतन काठोरी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिला कोठारी, उपाध्यक्ष संजय कोठारी, कोषाध्यक्ष डॉ प्रेमसिंह लोढा, अधिषासी निदेशक मेजर जनरल एससी पारीक (सेवानिवृत्त) सहित ट्रस्ट के सदस्यों ने ध्वजारोह के साथ की। इस मौके पर अध्यक्ष नवरतन काठोरी ने कहा कि हमारे देश को यह स्वतंत्रता कई बलिदानों के बाद बहुत मुश्किलों से मिली है। इस स्वतंत्रत देश को भष्ट्राचार मुक्त बनाने की जिम्मेदारी हम सभी देशवासियों पर है। चिकित्सालय अधिशासी निदेशक मेजर जनरल एससी पारीक ने चिकित्सालय की सोच और आगामी विकास कार्यों के बारे में भी जानकारी दी।

इन्हें किया सम्मानित
समारोह में बेस्ट डीएनबी अवॉर्ड से डॉ मोदी एनपी कुमार, नाइटेंगल आई केयर में नर्सिंग कर्मचारी रेखा जांगिड और बजरंग लाल डोगरा को एवं नाइटेंगल वीकेयर अवॉर्ड से बबिता एंड टीम (मेडिकल आईसीयू) को सम्मानि किया गया। पेशेंट केयर सर्विस के लिए अनिता कोठारी, मनिष, प्रिया, अंबिका, कमलेश और कैन्टिन टीम में अनिता कोठारी, हंसराज और कमलेश को स्पेशल टीम अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। इसके साथ ही फॉर्मेंसी के प्रफुल्ल गोलेछा एंड टीम को स्पेशल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। डॉ जयराम रायका, कोशी वर्गीस, अंबिका चौहान, मोनिका गौतम, विक्रम सिंह को मार्वेल्स अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। समारोह में सुरेष बैरवा, बबिता देवी और लेखराज को सार्थी अवॉर्ड दिया गया। इसके साथ ही कोविड के दौरान अपनी विशेष सेवाएं देने वाले डॉक्टर संजय गुगलिया समेत 65 डॉक्टर्स, नर्सिंग कर्मचारी, हॉउस किपिंग कर्मचारियों को सम्मानित किया गया।

    प्रोजेक्ट ग्रीनिस्थान से जुडा चिकित्साल
    जयपुर के स्कूल छात्र श्रेष्ठ मंगल के प्रोजेक्ट ग्रीनिस्थान से जुड़ते हुए चिकित्सालय में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया। प्रोजेक्ट के तहत चिकित्सालय में 60 जामुन के पेड़ लगाए गए। इस मौके पर श्रेष्ठ मंगल ने इन पौधा की आवष्यकता और पर्यावरण में इसके महत्व के बारे में जानकारी दी।