नेट-थियेट पर गूंजे कौमी तराने,, संजय ने ओजस्वी स्वरों में किया मां भारती का वंदन,,

329

जयपुर 16अगस्त 2021।(निक विशेष)देश की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ पर प्रदेश के ख्यातनाम गायक संजय रायजादा ने नेट-थियेट पर जय हो! कार्यक्रम में अपनी ओजस्वी स्वरों में लोकप्रिय देशभक्ति गीत गाकर मां भारती का वंदन किया।
नेट-थियेट के राजेंद्र शर्मा राजू ने बताया कि संजय रायजादा अपने गायन की शुरुआत, मेरे देश की धरती सोना उगले से की और उसके बाद शहीद भगत सिंह का तराना, सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, जहां डाल डाल पर सोने की चिड़िया करती है बसेरा वह भारत देश है मेरा और कर चले हम फ़िदा जानो तन साथियों, अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों, गाकर देशभक्ति का जज़्बा पैदा कर दिया।
सारेगामा के गायक संजय ने कौमी तराना अपनी आज़ादी को हरगिज़ मिटा सकते नहीं और रंग दे बसंती चोला जब गाया तो ऑनलाइन सुन रहे श्रोताओ ने भरपूर सराहना की। संजय ने अपनी पुरकशिश एवं मखमली जादूई आवाज से श्रौताओं को मंत्र मुग्ध किया।

संजय के साथ गिटार पर अंशु सक्सैना, सिंन्थसाइजर पर कपिल बालोदिया, तबले पर सांवन डांगी और ऑक्टोपैड पर विमल सन उर्फ भय्यू ने अपनी शानदार संगत से देश भक्ति का जज़्बा जगा दिया। कार्यक्रम का संचालन आर0 डी0 अग्रवाल ने किया। कार्यक्रम में सार्थक मानव कुष्ठ आश्रम द्वारा कलाकारों को मास्को सैनिटाइजर प्रदान किए गए।
संगीत विष्णु कुमार जांगिड, प्रकाश मनोज स्वामी, व दृश्य सज्जा मुकेश कुमार सैनी, अर्जुन देव, सौरभ कुमावत, अजय शर्मा, जीवितेश शर्मा, अंकित शर्मा नोनू, धृति शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, अंकित जांगिड रहे।