एसीपी मानसरोवर संजीव चौधरी और मानसरोवर थाने की कार्रवाई क्या दिखावा था,एक ढोंग मात्र,,, याद दिला दें 7 नवंबर को न्यू इंडिया खबर ने इन दोनों के बीच मार्केट में चल रहे खुलेआम सट्टे और जुए की खबर दिखाई थी, ऊपर से डंडा होने के बाद,इन दोनों ने की थी कार्यवाही,,सट्टे को कराया था बंद,, लेकिन अब न्यू इंडिया खबर ने जब पड़ताल की तो कुछ दिनों बंद होने के बाद,फिर से उसी मार्केट में खुलेआम,पुलिस की कार्रवाई को धता बताते हुए, ओला,कारा,अनिल,गोपी आदि ने नाक के नीचे शुरू कर दिया है सट्टे का काला कारोबार,,, किसकी शह पर, पढ़ें पूरी खबर,सीरीज -2

467

जयपुर 3 दिसम्बर 2020। (निक क्राइम ) सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जो कि गृहमंत्री भी है उन्होंने साफ कहा है आंकड़े चाहे बढ़ जाए लेकिन f.i.r. व परिवाद जरूर दर्ज होने चाहिए, लेकिन कुछ पुलिस के अधिकारी अपराधियों से मिलीभगत कर सट्टे जुए आदि अवांछित गतिविधियों को शह दे रहे हैं और पुलिस की साफ छवि को धूमिल करने में भी कोई कसर नहीं छोड़ रहे। इसका जीता जागता उदाहरण एसीपी मानसरोवर कार्यालय और मानसरोवर थाने के मात्र 500 मीटर की दूरी पर खुलेआम चल रहे सट्टे व जुए के कारोबार को बढ़ावा दे रहे हैं ।
7 नवंबर को जब न्यू इंडिया खबर ने इसका स्टिंग किया था तो बस एक थोथी कार्रवाई करते हुए कुछ दिनों के लिए सट्टे को बंद करवा दिया था।
लेकिन फिर से इस तरह की अवांछित गतिविधियां शुरू हो गई है जिससे आसपास के व्यापारियों आमजन को परेशानी हो रही है। उनके द्वारा अनेकों बार शिकायत करने के बावजूद भी इस तरह की गतिविधियां बंद नहीं होती क्यों कोई सांठगांठ तो नहीं।

कारा,सट्टे का काला कारोबारी

ओला,गोपी, अनिल, कारा,आदि यह वह नाम है जिन्होंने थाने के आसपास सट्टे का मकड़जाल फैला रखा है( पहली कार्रवाई के बाद भी खुलेआम घूम रहे हैं) क्या कोई मिलीभगत
तो नहीं ?
डीसीपी दक्षिण मनोज कुमार से यह गुजारिश आप के अंतर्गत आने वाले मानसरोवर थाने के आसपास चल रही अवैधानिक गतिविधियों को तुरंत प्रभाव से बंद करवाएं और समाज में पुलिस की छवि को दागदार होने से बचाएं।

    सूत्रों के हवाले से पता चला है कि महिला थाने के सामने पार्क में ओला का आदमी वासु द्वारा खुले आम सट्टे की पर्चिया लिखी जा रही है।

    7 नवम्बर की खबर,,

    Newindia khabar की रहेगी पैनी नजर,,
    आपके आसपास चल रही ऐसी कोई भी अवांछित गतिविधियां हो तो हमसे संपर्क करें SUNNY ATREY,EDITOR NEWINDIA KHABAR,
    STATE PRESIDENT PERIODICAL PRESS OF INDIA, NATIONAL JOURNALIST ASSOCIATION ,

    MOB.8302118183 WhatsApp 8107068124

    तीन लाख से अधिक पाठकों का प्यार मिला है न्यू इंडिया खबर कोअब तक,, सभी का धन्यवाद,,