कपासन में *आवाज़* कार्यक्रम के तहत जागरूकता अभियान का हुआ आगाज़,,पुलिस अधीक्षक, अति.पुलिस अधीक्षक आदि ने किया सम्बोधित,,

12

कपासन/जयपुर 10 अक्टूबर 2020।(निक क्राइम) महिलाओ पर बढते अत्याचार पर यदी अंकुश लगाना है तो घर पर भाई व बेटे को सुधारना आवश्यक है। उक्त विचार जिला पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने नगर के राजराजेश्वर तालब की पाल चैक पर आयोजित आवाज कार्यक्रम मे उपस्थित महिलाओ ओर युवाओ का संम्बोधित करते हुए व्यक्त किये।
एपी भार्गव ने कहा कि महिलाओ पर होने वाले घरेलु अत्याचारो में महिलाओ की भी भागीदारी रहती है। घर से बाहर होने वाले लैगिक अपराध पर यदी लगाम लगाना है तो सबसे पहले घर में अपने भाई व बैटे को अनैतिकता से दुर रखना होगा। वही उनके क्रियाकलापो पर भी नजर रखनी होगी। उन्होने कहा कि युवा जितना नशे से दुर रहेगा उतना ही अपराध कम होगा। माताओ से अनुरोध है कि घर के पुरूष सदस्यो का यह भी घ्यान रखे कही उसकी संगती नशा खोरो से तो नही है।
वही समारोह को सम्बोधित करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक सरीता सिह ने महिलाओ के खिलाफ होने वाले अपराधो पर कार्यवाही व जागरूकता विषय पर महिलाओ को सम्बोधित करते हुए,महिला अपराधो पर अकुश लगाने और पुलिस द्वारा स्थापित महिला डेस्क गरीमा अन्य हेल्प लाईन की विस्तरीत जानकारी दी।
आवाज कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमारी सौमानी व सत्यनारायण आचार्य ने कपासन पुलिस द्वारा नगर सहीत क्षैत्र में नशा खोरी पर अंकुश लगाने के लिये कपासन थानाधिकारी हिमाशु सिह राजावत व डीएसपी दलपत सिह भाटी का आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम में पेन्सनर समाज द्वारा लम्बे समय से स्मेक ,नशामुक्ति के लिये उठाये गये कदम के लिये धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बेस्ट पुलिसिग के लिये कास्टेबल जितेन्द्र गुर्जर व रतन लाल करा का समारोह में अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम का संचालन अनिल सौमानी ने किया।
जिला पुलिस अधीक्षक ने इस दौरान सामाजिक कार्यकत्ताओ का सम्मान- कार्यक्रम में जिला पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने सामाजिक कार्यकर्ता सत्यनारायण आचार्य,मंजुदेवी आचार्य, ललीत टांक, भुवनेश व्यास व पेन्सनर समाज के अध्यक्ष रामनारायण शर्मा का दुप्टटा ओडा कर अभिनन्दन किया गया।