समर्पण संस्था की मीटिंग पहली बार ज़ूम एप पर आयोजित… निर्धन बच्चों को निजी स्कूलों में आरटीई के तहत प्रवेश दिलायेंगे “ समर्पण शिक्षा सहयोगी”

660

जयपुर, 24 मई ।(निक शिक्षा) मानवता व परोपकार के लिए समर्पित समर्पण संस्था की पहली बार मीटिग ज़ूम एप पर आयोजित की गई । मीटिग मे वैश्विक महामारी कोरोना वाइरस कोविड 19 की वजह से हुए लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदो की मदद के लिए चलाये गये अभियान “लोकोपकार “ के तहत किये गये कार्यों की समीक्षा की गई । साथ ही निर्धन बच्चों को निजी स्कूलों में आरटीई के तहत प्रवेश दिलाने के लिए “ समर्पण शिक्षा सहयोगी” नियुक्त करने का निर्णय लिया गया ।
संस्था के संस्थापक अध्यक्ष आर्किटेक्ट डॉ. दौलत राम माल्या ने कहा कि “प्रत्येक वार्ड में एक समर्पण शिक्षा सहयोगी नियुक्त किया जायेगा जिसे प्रति प्रवेश पर ₹100 मानदेय संस्था की तरफ़ से दिया जायेगा ।” इसके लिए आवेदन आमन्त्रित किये जायेंगे ।
मीटिंग मे कोरोना वारियर्स को ऑनलाइन प्रशंसा पत्र भी देने का निर्णय लिया गया । संस्था द्वारा पहले से चल रहे शिक्षा सहायता व एजुकेशनल एम्बेसडर अभियान भी नियमित जारी रहेगा ।

“समर्पण शिक्षा सहयोगी “ नियुक्ति के लिए आवेदन आमन्त्रित …,,

ऐसे सामाजिक कार्यकर्ताओं से आवेदन आमन्त्रित किये गये है जो अपने वार्ड मे निर्धन परिवारो को ढूँढ कर उनके बच्चों के फ़ॉर्म ऑनलाइन भरकर निजी स्कूलों मे नि:शुल्क प्रवेश दिलवा सकें ।इच्छुक व्यक्ति अपना नाम, पता, वार्ड नम्बर , फ़ोटो सहित व्यक्तिगत विवरण संस्थापक अध्यक्ष के मोबाइल नम्बर 9414336431 पर वाट्सअप या [email protected] पर मेल करें ।चयन वरीयता के आधार पर किया जायेगा ।अन्तिम तिथि 30 जून 2020 है ।
राजस्थान आरटीई निःशुल्क प्रवेश 2020-2021
प्रदेश के सभी निजी शिक्षण संस्थानों में 25% सीटों पर निर्धन बच्चों को निशुल्क प्रवेश दिया जाता है इन बच्चों की फीस राज्य सरकार वहन करती है यह प्रवेश आरटीई यानी राइट टू एजुकेशन अधिकार के तहत दिया जाता है
किसी बच्चे के परिवार की इनकम ढाई लाख से कम है तो वह निजी स्कूलों में  प्रवेश लेने के लिए आवेदन कर सकता है
यह इनकम की सीमा पहले एक लाख थी जिसे अब बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दिया गया है तो जाहिर सी बात है कि निगम की सीमा बढ़ाने से प्रवेश लेने वालों की संख्या में वृद्धि होगी और प्रवेश लेने वालों की संख्या में वृद्धि होने से प्रवेश की प्रक्रिया लॉटरी के द्वारा संपन्न की जाएगी | यानी एक स्कूल में अगर 25% सीट से ज्यादा आवेदन आ जाते हैं तो  तो उनके एडमिशन की लिस्ट लॉटरी के द्वारा निकाली जाएगी |
यह लॉटरी कब निकाली जाएगी? और आवेदन कब किए जाएंगे? इन सभी की सूचना जल्दी ही राज्य सरकार द्वारा जारी की जाएगी |