विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी में राजस्थान में “MSME की विकासशील उद्यमी पारिस्थितिकी तंत्र की भूमिका” पर एक राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया

107

जयपुर, 3 फरवरी 2020। (निक शिक्षा) सोमवार को SIDBI द्वारा प्रायोजित, सेमिनार में MSME, भारत सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली वर्तमान उद्यमशीलता इको-सिस्टम और सहायता चर्चा का मुख्य विषय रहा।
कार्यक्रम का उदघाटन मुख्य अतिथि वी के शर्मा डायरेक्टर MSME और VGU एवं VIT के संस्थापक डॉ के आर बागरिया ने दीप प्रज्वलित करके किया।इस अवसर पर वी के शर्मा ने एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने वाली सरकारी योजनाओं के बारे में बताया और संजीव पटियाल ने भी सिडबी द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं की जानकारी दी।
डॉ के आर बागरिया ने विद्यार्थियों को जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया। इस संगोष्ठी में श्री तरूण भटनागर सहायक-निदेशक, संजीव पटियाल, उप-महाप्रबंधक, एनसी देबनाथ, सहायक प्रबंधक, सिडबी, श्रीराज जानी, संस्थापक, कटोरी फ्रेश इंडिया प्रा. लिमिटेड,ब्रेन स्टेम टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड” के निदेशक अनिरुद्ध शर्मा, रूपम गुप्ता, संस्थापक और मुख्य प्रचारक, “सौर लज्जा , गौरव शर्मा सीईओ और कोफाउंडर, “धन्यवाद” में भाग लिया।
सेमिनार का मुख्य उद्देश्य एमएसएमई क्षेत्र में कृषि व्यवसाय के अवसरों का पता लगाना , एंटरप्रेन्योरियल इकोसिस्टमिन ग्लोबल इकोनॉमी को बढ़ावा देने के तरीकों और तरीकों का पता लगाना था।

इस संगोष्ठी में विभिन्न प्रबंधन कॉलेजों और विश्वविद्यालयों से आये अंतिम वर्ष के 300 से अधिक छात्रों ने विभिन्न पैनल चर्चाओं भाग लिया।कार्यक्रम के सफल आयोजन में सीईओ श्री ओंकार बगड़िया,प्रो डॉ प्रवीण चौधरी डीन एवं रजिस्ट्रार, डॉ विकास श्रोत्रिय डीन इंचार्ज, डॉ मनीषा चौधरी विभागाध्यक्ष, सुश्री मधुबाला कौशिक संयोजक और डॉ. दीपिका गुप्ता संयोजक, सुश्री अनादि त्रिखा, श्री हितेश टिक्यानि, डॉ पंकज मील,डॉ अंकित आचार्य एवं समस्त मैनेजमेंट विभाग ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।