पीपीआई के उपाध्यक्ष संजय त्रिवेदी, पिंकसिटी प्रेसक्लब कार्यकारिणी के सदस्य, पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह राठौड़ के साथ श्रमजीवी के अध्यक्ष हरीश गुप्ता, जार के संजय सैनी व आईएफडब्लूजे के पदाधिकारी ,अन्य पत्रकार साथियों ने डीजीपी को पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर ज्ञापन सौंपा,,डीजीपी ने तुरन्त कार्रवाई करते हुए,सभी एस पी को एडवाइजरी जारी की,(वहाँ उपस्तिथ प्रतिनिधि मंडल ने जैसा बताया) इस मुद्दे पर पीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय दोषी पुलिस कर्मियों के निलंबन के साथ उनकी गिरफ्तारी की भी मांग करते हैं, *भास्कर के फोटो जर्नलिस्ट अनिल शर्मा के साथ पुलिस द्वारा मारपीट मामला*

717

प्रतिनिधि मंडल में, वीरेंद्र सिंह राठौड़, बबिता शर्मा, अनिता शर्मा,संजय सैनी, रामेंद्र सोलंकी,रघुवीर जांगिड़,दिनेश अधिकारी संजय त्रिवेदी,रेखराज चौहान, दिनेश डाबी, पंकज शर्मा, मतिष कुमार व अन्य पत्रकार गण शामिल थे

जयपुर 6 सितम्बर2019।(निक विशेष) राज्य में दिन ब दिन बढ़ते पत्रकारों पर हमले के मद्दे नज़र आज पत्रकार संगठनों ने राज्य के पुलिस महानिदेशक डॉ भूपेंद्र यादव को ज्ञापन सौंपा, जिसमें कवरेज के दैरान पत्रकारों पर होने वाले हमले पर चिंता जताते हुए रोष प्रकट किया गया।
जैसा कि ज्ञात हो कल खोनागोरियन में दैनिकभास्कर के फोटोग्राफर अनिल शर्मा के साथ कवरेज करते समय पुलिस वालों ने SHO वीरेंद्र सिंह के कहने पर अनिल शर्मा की बेरहमी से पिटाई कर उसे जबरन पुलिस जीप में बिठाया, वहाँ भी अनिल का गला घोंटा गया ।
इसी क्रम में पत्रकारोँ के प्रतिनिधि मंडल को डीजीपी द्वारा सखत रुख अपनाते हुए एडवाइजरी जारी की और कहा कि आगे से पुलिस द्वारा पत्रकारों के साथ अगर बदसलूकी की व उन्हें कहीं भी कवरेज करने से रोका तो उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। अब ऐसे प्रकरण स्वयं डीजीपी देखेंगे।
वही दोपहर में इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुएपिंकसिटी प्रेसक्लब के अध्यक्ष अभय जोशी ,महासचिव मुकेश चौधरी ,वरिष्ठ पत्रकार सत्य पारीक व अन्य पत्रकार साथियों ने मीटिंग कर इस बाबत मुख्यमंत्री से भी जो सूबे के गृहमंत्री भी हैं,को भी अवगत करा उचित तुरन्त कार्रवाई करने की मांग दोहराई।
पीपीआई राष्ट्रीय पत्रकार संगठन के अध्यक्ष सन्नी आत्रेय ने उनपर पर रेजिडेंट डॉक्टरों द्वारा इलाज के दौरान हुए दुर्व्हवहार व आये दिन हो रहे पत्रकारों पर हमले पर चिंता जताते हुए कहा कि अब ऐसे कृत्यों को गम्भीरता से लेने की आवश्यता है तथा भास्कर के अनिल शर्मा पर हुए हमले मामले पर ग्रहमंत्री व डीजीपी से पीपीआई मांग करती है कि दोषी पुलिस कर्मियों को निलंबन के साथ उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित करे।
Newindia खबर की अपील
आमजन के साथ सभी महकमों को समझना होगा कि मीडिया पर हमला देश के सबसे बड़े लोकतंत्र की जड़ों को कमजोर करना होगा। चारो स्तम्भ देश की अस्मिता व गौरव को बढाने का कार्य करते हैं,अगर यही स्तम्भ एक दूसरे पर दोषारोपण व हमले करते रहेंगे तो समझ लें आने वाली पीढ़ी को हम विरासत में क्या देंगे।
अपवाद सब जगह व्याप्त है, हमें समाज व देश हित मे सकारात्मक सोच को।विकसित करना होगा।