कांग्रेस राज में महिलाएं सुरक्षित नहीं: कालीचरण सर्राफ, तूल पकड़ रहा है थानागाजी रेप कांड,,खुल रही हैं अन्य घटनाएं,हर कोई सरकार को घेरने की तैयारी में,,

153

जयपुर 13 मई2019।(निक राजनीतिक) कांग्रेस के शासन ने प्रदेश में महिलाओं विशेषतः दलित महिलाओं पर बेलगाम दुष्कर्म एवं अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग पर हो रहे अत्याचारों के विरोध में भारतीय जनता पार्टी अजमेर द्वारा सम्भागीय आयुक्त को राज्यपाल मोहदय के नाम ज्ञापन सोपा।

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे पूर्व चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ ने कहा कि राजस्थान में विधानसभा चुनाव के पश्चात् कांग्रेस सरकार के गठन के बाद से ही सम्पूर्ण प्रदेश में कानून एवं प्रशासनिक व्यवस्था चौपट हो चुकी है तथा सम्पूर्ण राजस्थान में अपराधी बिना किसी भय के अपराधों को अंजाम दे रहे है। पुलिस प्रशासन सरकार के निर्देश पर अपराधियों के विरूद्ध कोई कार्यवाहीं नहीं कर रहा है। प्रदेश में दलितों व महिलाओं विशेषकर दलित महिलाओं के विरूद्ध अत्याचार व बलात्कार की घटनाएं आम हो गई है अभी अलवर जिले में थानागाजी क्षेत्र में दिनांक 26 अप्रैल को अपराधियों ने बेखौफ होकर एक अत्यन्त हैवानियत व शर्मनाक घटना को अंजाम दिया, इससे भी अधिक खेद की बात यह है कि लोकसभा चुनावों के मद्देनजर राज्य सरकार के इशारे पर पीड़ित की रिपोर्ट भी प्रशासन ने दर्ज नहीं की ताकि कांग्रेस को हानि न हो जिस गति से प्रदेश में अपराध बढ़ रहा है इसे देखते हुए वर्तमान मुख्यमंत्री जिनके पास गृह मंत्रालय है उन्हें नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए अलवर की घटना अत्यधिक दुर्भाग्यपूर्ण है इससे भी दुर्भाग्यपूर्ण बात यह रही कि चुनाव में कांग्रेस को नुकसान ना हो सिर्फ इसलिए इतने बड़े विषय को दबाए रखा

भाजपा शहर जिलाध्यक्ष शिव शंकर हेड़ा ने कहा कि प्रशासन का कोई भय अपराधियों में शेष नही रहा है भाजपा ने मांग की राज्य सरकार कानून व्यवस्था को बनाये रखने में नाकाम रही है तथा अपराधियों के सरंक्षण में प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से लिप्त है

भाजपा देहात जिलाध्यक्ष भगवती प्रसाद सारस्वत ने कहा कि ज्ञापन के साथ आज कांग्रेस शासन के दौरान महिलाओं एवं दलित महिलाओं पर तथा अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग पर हुए अत्याचारों की एक लम्बी सूची है। जो इस ज्ञापन के साथ एनेक्जर 1 महिलाओं के साथ हुए अत्याचारों की सूची व एनेक्जर 2 दलितों पर हुए अत्याचारों की सूची संलग्न की गई है जिससे साबित होता है कि कांग्रेस के शासन में कानून व्यवस्था पूर्णतः चौपट हो गई है

महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने कहा कि जब पूर्व भाजपा सरकार वसुंधरा राजे के नेतृत्व में महिलाओं के हित में कार्य करने के लिए संकल्पबद्ध थी वहीं यह कांग्रेस सरकार महिलाओं पर अपराधों को बढ़ावा देने वाले अपराधियो के विरुद्ध कार्यवाही करने बजाय मामलो को दबाने का कार्य कर रही है

प्रदेश मीडिया प्रभारी विमल कटियार ने कहा कि अलवर जिले में ही सामुदायिक अस्पताल कठूमर में इलाज के लिये भर्ती मरीज की सास के साथ अस्पताल के कर्मचारियों ने ही दुष्कर्म की वीभत्स घटना को अंजाम दे डाला। प्रशासन ने इस घटना को भी दो दिन तक छुपाकर रखा राज्य सरकार ने प्रशासन के विरूद्ध कोई प्रभावी कार्यवाही नहीं की, बस सरकार ने मात्र जनता को छलावा देने के कुत्सित उद्देश्य से प्रशासन में छोटा-मोटा फेर बदल किया।

भाजपा सांसद प्रत्याशी भागीरथ चौधरी ने कहा कि इससे दुर्भाग्यपूर्ण कुछ नहीं हो सकता कि कांग्रेस को उस महिला की पीड़ा की चिंता नहीं थी उस महिला पर हुए अत्याचार की चिंता नहीं थी कांग्रेस को उस समय वोट बैंक की चिंता थी

आज के ज्ञापन में पूर्व चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ ,भाजपा शहर जिलाध्यक्ष शिव शंकर हेड़ा, देहात जिला अध्यक्ष भगवती प्रसाद सारस्वत पूर्व महिला एवं बालविकास मंत्री व दक्षिण विधायक अनिता भदेल, सांसद प्रत्याशी भागीरथ चौधरी, विधायक सुरेश सिंह रावत,शंकर सिंह रावत, रामस्वरूप लांबा, विधायक प्रत्याशी विकास चौधरी ,जिला प्रमुख वन्दना नोगिया,पूर्व सांसद रासा सिंह रावत ,प्रदेश मीडिया प्रभारी विमल कटियार, प्रदेश मीडिया सह प्रभारी नीरज जैन,आंनद सिंह राजावत,जयकिशन पारवानी,रमेश सोनी,सुरेन्द्र सिंह शेखावत,पूर्व मंत्री श्रीकिशन सोनगरा,धर्मेश जैन,प्रधान अशोक रावत,अरविन्द गिरधर शर्मा,शिवराज सिंह पलाड़ा,महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष सीमा गोस्वामी,पूर्व जिला प्रमुख सरिता गैना,सरोज चौधरी,वनिता जैमन,विजयलष्मी विजय,श्वेता शर्मा,रचित कच्छावा,रविन्द्र जसोरिया,अशोक राठी,प्रशांत यादव,हेमन्त सुनारीवाल,विजय खेमानी आदि उपस्थित रहे