धारा 370 और 35 ए से कश्मीर को कोई फायदा नहीं, समीक्षा का समय आ गया अब :राजनाथ सिंह

518

विपक्षी दल हताश है, इसलिए ई.वी.एम. में
गड़बड़ी की बात कहने लग गये : राजनाथ सिंह
************************************************
एयर स्ट्राइक पर कांग्रेस के सवाल खड़े करने से आतंकवाद
के प्रति भारत का पक्ष कमजोर होता है : राजनाथ सिंह
**************************************************************

जयपुर, 22 अप्रैल 2019। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज जयपुर स्थित होटल क्लाक्र्स आमेर में प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि धारा 370 और 35ए अस्थायी प्रावधान है। इनसे कश्मीर को कितना लाभ हुआ है, इसकी समीक्षा करने का समय आ गया है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि देश में कुछ लोग यह कह रहे हैं कि जम्मू-कश्मीर का अलग से प्रधानमंत्री होना चाहिए, तो फिर धारा 370 रहने का क्या औचित्य है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने घोषणा-पत्र में राष्ट्रद्रोह का एक्ट समाप्त करने की बात करती है, जबकि भाजपा का स्पष्ट मत है कि यह एक्ट मजबूत होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कानून का दुरूपयोग नहीं हो ऐसी सावधानी रखनी चाहिए।

राजनाथ सिंह ने कहा कि मतदान के दो चरण पूरे हो चुके हैं। कांग्रेस सहित सारे विपक्षी कहने लग गये हैं कि ई.वी.एम. में गड़बड़ी है। मतदान से स्पष्ट है कि रूझान भाजपा की तरफ जा रहे है। एन.डी.ए. को तीन चैथाई तथा भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिलने वाला है। विपक्षी दल हताश हैं, उनके मन में गाँठे है तो गठबन्धन कैसे होगा।

राजनाथ सिंह ने कहा कि विपक्ष के पास मुद्दों का अभाव है, जिन मुद्दों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए, कांग्रेस उन पर भी राजनीति कर रही है। पुलवामा मामले पर कांग्रेस को सैनिकों की प्रशंसा करनी चाहिए। इसके बजाय कांग्रेस ने सवालिया निशान लगाने शुरू कर दिये है। एयर स्ट्राइक कितनी सफल हुई, उसमें कितने लोग मारे गये, इस प्रकार के सवालों से आतंकवाद के प्रति भारत का पक्ष कमजोर होता है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद की थ्योरी गढ़ी है। कांग्रेस की नई थ्योरी से भी भारत का पक्ष कमजोर होता है। कांग्रेस ने परवेज मुशर्रफ के समय भी कहा था कि पाकिस्तान भी आतंकवाद से पीड़ित है। इस प्रकार के बयान राष्ट्रहित में नहीं है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार को जनता से किए गए वादे पूरे करने चाहिए। पूववर्ती भाजपा सरकार द्वारा चलायी गई जनहित की योजनाओं तथा केन्द्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को भी प्रदेश की कांग्रेस सरकार को ठीक प्रकार से चलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव में हमारा मुख्य मुद्दा गुड गवर्नेंस ही है।