भारत के मन की बात – मोदी के साथ

462

मजबूत फैसले लेने में सिद्धहस्त हैं प्रधानमंत्री: डाॅ. महेश शर्मा
**************************************************************
पिछले 5 वर्ष में भारत, भारतीयता और भारत के लोगों का सम्मान बढ़ा
********************************************************************

जयपुर, 20 फरवरी 2019। केन्द्रीय मंत्री डाॅ. महेश शर्मा ने ‘‘भारत के मन की बात-मोदी के साथ’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मजबूत फैसले लेने में सिद्धहस्त हैं। उनका पाँच वर्ष का प्रधानमंत्री का कार्यकाल तथा लगभग 15 वर्ष गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में बेदाग सामाजिक जीवन रहा है। राष्ट्रवाद तथा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्कार प्रधानमंत्री में कूट-कूटकर भरे है।

शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री देश के सर्वांगीण विकास के लिए संकल्पित है। अन्त्योदय की भावना के अनुसार समाज के अन्तिम व्यक्ति के लिए प्रधानमंत्री योजनाऐं बनाते है। उनके कार्यकाल के दौरान पूरे विश्व में भारत, भारतीयता तथा भारत के लोगों का सम्मान बढ़ा है। भारत विश्व की छठीं अर्थव्यवस्था बना है।

शर्मा ने कहा कि पिछले पाँच वर्ष के दौरान नोटबंदी, वन रैंक-वन पेंशन, जीएसटी, आर्थिक आधार पर 10 प्रतिशत आरक्षण जैसे अनेक फैसले मील का पत्थर साबित हुए है। 10 करोड़ परिवारों के उपचार के लिए बनी ‘‘आयुष्मान भारत योजना, उज्ज्वला योजना’’ जैसी योजनाओं के माध्यम से देश के आम आदमी का जीवन स्तर ऊँचा उठाने का प्रयास किया गया है। ‘‘सौभाग्य योजना’’ के अन्तर्गत देश के हर घर तक बिजली पहुँचाने का प्रयास भी हमारी सरकार ने किया है।

शर्मा ने कहा कि विपक्षी दल गठबंधन के नाम पर देश को गर्त में धकेलने की कोशिश में लगे है। विपक्षी गठबंधन वाले दल चाहते हैं कि देश में मजबूत नहीं, मजबूर सरकार बने।

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए डाॅ. महेश शर्मा ने कहा कि भारत पाकिस्तान को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने में सफल हुआ है। हमारे प्रधानमंत्री तथा सेना दुश्मनों को उचित समय पर कठोर कार्यवाही करके जवाब देने में सक्षम है। सेना ने भी कश्मीर के अलगाववादियों को कठोर शब्दों में चेतावनी दे दी है एवं सरकार ने सेना को खुली छूट दे दी है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के बयान से स्पष्ट है कि भारत का रूख देखकर पाकिस्तान में हताशा एवं डर का माहौल है।

उल्लेखनीय है कि ‘‘भारत के मन की बात-मोदी के साथ’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत केन्द्र सरकार के सभी मंत्री एवं सांसद देशभर में जाकर अलग-अलग वर्गों से सुझाव एकत्रित कर रहे है। देशभर में 7,500 सुझाव पेटियों के माध्यम से लगभग 10 करोड़ लोगों से सुझाव लेने की योजना है।
डाॅ. महेश शर्मा ने बताया कि वे राम मन्दिर निर्माण, गंगा निर्मलीकरण, हैरिटेज, संस्कृति, योग तथा आयुर्वेद के विषयों पर लोगों से सुझाव ले रहे है। जयपुर में आज डाॅ. महेश शर्मा ने ज्वैलर्स, वकील, चार्टर्ड एकाउन्टेंट तथा डाॅक्टर्स से ‘‘भारत के मन की बात-मोदी के साथ’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत संवाद किया।