किसानों के हित के लिए जेल जाना पड़े तो पीछे नहीँ हटेंगें, हमें धमकी ना दे:गजेंद्र सिंह शेखावत

538

*लोकतंत्र की हत्या कांग्रेस की पुरानी आदत ,
लेकिन हमें धमकी ना दे कांग्रेस – शेखावत*

जयपुर 31 जनवरी2019।(निक राजनीतिक)किसानों की कर्ज़ माफी और बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने समेत कई मांगों को लेकर 8 फरवरी को प्रस्तावित भाजपा के जेल भरो आंदोलन को लेकर धमकी देने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर अब केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री और जोधपुर सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत ने हमला बोला है । शेखावत ने गहलोत के भाजपा कार्यकर्ताओं को जेल में डालने के बयान पर कहा कि लोकतंत्र की हत्या कांग्रेस ने पहले भी की है और ये उनकी पुरानी आदत है लेकिन सरकार में आते ही किसान की बात करने और युवाओं और किसानों के हक की लड़ाई लड़ने की चेतावनी देने पर इस तरह की अलोकतांत्रिक धमकी देना मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता । कांग्रेस को ये नहीं भूलना चाहिए कि आपातकाल के दौरान जब लोकतंत्र की हत्या की गई थी तब देश के लाखों कार्यकर्ताओं ने कई महीने जेल में यातनाएं सहकर ये लड़ाई लड़ी थी और अब एक बार फिर प्रदेश की कांग्रेस सरकार उसी तरह का कृत्य करने की धमकी दे रही है ।
हम पहले भी जेल में रहकर आये है और इस देश के किसान के लिए और उनके हक की लड़ाई के लिए अगर हमें फिर से जेल जाना पड़े तो हम पीछे नहीं हटेंगे लेकिन किसी भी सूरत में अशोक गहलोत को वादा खिलाफी करके चैन से बैठने नहीं देंगे ।
एक ओर केंद्र में माननीय प्रधानमंत्री जी किसानों की आय को दुगुनी करने और देश के अन्नदाता को हर हाल में खुशहाल और समृद्ध बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित है वहीं राज्य की कांग्रेस सरकार ने आते ही अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है जिसका परिणाम उन्हें आगामी लोकसभा चुनावों में भुगतना होगा । कांग्रेस ने बेरोजगारी भत्ते के नाम पर युवाओं को जो झूठे दिलासे दिए है वो भी अब युवा शक्ति को समझ में आ चुका है और अब आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व को जिस तरह से युवाओं ने स्वीकार किया है और वो भारत को विश्वगुरु बनाने के लिए प्रयासरत है उसे देखकर कांग्रेस की ये बौखलाहट स्वाभाविक है ।
लेकिन भारतीय जनता पार्टी किसानों , युवाओं और महिलाओं के साथ किसी भी तरह का कोई खिलवाड़ होने नहीं देगी और हर हालत में कांग्रेस पार्टी और राजस्थान के मुख्यमंत्री को प्रदेश की जनता से किये वादों को पूरा करना होगा वरना हम उन्हें चैन से बैठने नहीं देंगे ।
ऐसी चेतावनी और धमकियों से भाजपा के कार्यकर्ता डरने वाले नहीं है और अगर राजस्थान सरकार में दम है तो वो हमें गिरफ्तार करके दिखाए ।