बाड़ेबंदी की दीवार फांदी,टूटी टांग पर जयपुर आराध्य गोविंद की कृपा से भाजपा बागी विष्णु लाटा बने महापौर,प्रताप सिंह खाचरियावास ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका,भाजपा को लगा ज़ोर का झटका

527

भाजपा ने 6 वर्ष के लिए किया पार्टी से निष्काषित,,
भाजपा प्रत्याशी मनोज भारद्वाज व सभी आलोचकों को किया अचंभित
1 वोट से मिली करारी हार,
लोकतंत्र में 1वोट की कीमत की महत्त्ता को समझना होगा
लाटा को 45 व मनोज भारद्वाज को 44 वोट मिले ,18 ने की क्रोसवोटिंग
1 वोट जो हुआ निरस्त

प्रतापसिंह खाचरियावास रणनीति बनाते हुए

जयपुर 22 जनवरी2019।(NIK political) सभी कयासों को धत्ता बता भाजपा बागी विष्णु लाटा बने जयपुर के नए महापौर । भाजपा ने 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया विष्णु लाटा को ।
विगत कुछ दिनों से बदलते समीकरण के चलते भाजपा को अब तक का सबसे जबरदस्त झटका लगा है, जो आने वाले लोकसभा चुनावों के समीकरण बदलने में अपनी भूमिका निभा सकता है ।
हालांकि भाजपा ने आशंका के तहत शहर के एक रिसोर्ट में भाजपा पार्षदों की बाड़ेबंदी की थी।
वही कांग्रेस ने परिवहन व सैनिक कल्याण मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास के नेतृत्व में रणनीति बनाई ।
प्रताप सिंह ने अपनी रणनीति व सूझबूझ के चलते बागी विष्णु लाटा से अंतिम समय तक सम्पर्क बनाये रखा,और लाटा को बाड़े बन्दी से मुक्त कराने में महिती भूमिका निभाई साथ ही अपने विश्वनीय 2 सिब्बेसालार मनोज मुदगल व विमल यादव को चुनाव प्रभारी नियुक्त किया।
Newindiaखबर के सूत्रों के हवाले से,रही सही कसर सांगानेर के वर्तमान विधायक अशोक लाहौटी व किशनपोल से हारे प्रत्याशी व सांसद रामचरण बोहरा ने पूरी कर दी। नगर निगम में भाजपा का पैनल होने के बावजूद 1 वोट से हारे मनोज भारद्वाज और 18 पार्षदों ने की क्रोसवोटिंग।
लोकतंत्र में 1 वोट की कीमत की दास्तांऔर उसके महत्व को सभी को समझना होगा, जिस तरह कुछ समय पूर्व नाथद्वारा।से कांग्रेस के दिग्गज सी पी जोशी हारे थे वही इतिहास फिर से दोहराया गया ।