राजस्थान का युवा,बच्चे नशे कि गिरफ्त में,, हर गली नुक्कड़ पर नशे के कारोबारी, आप ने उठाया सवाल, राजस्थान के युवाओं को नशे से बचाने को आप आयी आगे , आप ने कहा राजस्थान के युवाओं का भविष्य बचाएं, सरकार राजस्थान के हर कोने में अच्छे स्कूल,क्लीनिक नहीं पर नशा उपलब्ध

28

जयपुर 12 जून 2022।(निक राजनीति) आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता मयंक त्यागी ने आज प्रदेश कार्यालय में पत्रकार वार्ता में राजस्थान के युवाओं में बढ़ती नशे की लत पर चिंता जताई और सरकार से मांग की इसपर कारवाई करे। पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने से और सरकार की नशे पर कठोर नीति से अंकुश लगाया जा रहा है। वहीं राजस्थान में सरकार कि युवाओं और स्कूली बच्चों में बढ़ती नशे की लत पर लगाम लगाने की कोशिश भी नहीं की जा रही है।

नेताओ के संरक्षण में ही नशे का व्यपार बड़ रहा है । नशे के ओवरडोज से युवा बेमौत मर रहे है। नशे से सिर्फ युवा ही नहीं मर रहे उनके साथ उनके परिवार का भविष्य भी अंधकारमय हो जाता है। नशे के कारोबारियों ने नशे में चरस, गांजा,स्मैक, कई प्रकार की ड्रग की आसानी से उपलब्धता करवा रखी है जिससे युवा जल्दी उसकी चपेट में आ जाते है। बिना सरकार के सरंक्षण के नशे का कारोबार राजस्थान में नहीं चल सकता। सरकार तो अपनी कुर्सी बचाने अपने आलाकमान के राजनीतिक पर्यटन में लगी है। बच्चे और युवा राजस्थान का भविष्य है और वो नशे के सौदागर की गिरफ्त में आ रहा है। नशे से युवाओं में बढ़ती मौतों का आंकड़ा सरकार बताती नहीं है । कभी हर स्कूल , कॉलेज, यूनिवर्सिटीज के आस पास नशे के सौदागर है और वो लालच में लेकर बच्चो में लत लगा रहे है।

    मयंक त्यागी ने सरकार से इस पर कठोर नीति बनाने की मांग की ओर बताया की जल्द ही आम आदमी पार्टी इस मुद्दे पर सरकार को ध्यान देने के लिए कहा नही तो आंदोलन की चेतावनी दी। त्यागी ने बताया कि बच्चो कि सही शिक्षा से ही इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है । दिल्ली और पंजाब में हम इस पर काम कर रहे हैं। बच्चों को अच्छी शिक्षा दे रहे हैं उनको नशे की गिरफ्त से दूर करवा रहे है। दिल्ली और पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार उनके द्वारा युवाओं को नशे से दूर करवाने पर काफी गंभीर है।