पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास कूच को रोका. पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल ने दिया मुख्यमंत्री को ज्ञापन. 70 से अधिक घुमंतु ,अर्ध घुमंतु, विमुक्त जाति संगठनों का प्रदर्शन. रावण बस्ती मानसरोवर अग्निकांड, सीरीज — 2

104

सभी संगठनों का सरकार को दस दिन का अल्टीमेटम ! मांगों पर विचार नहीं किया तो करेंगे प्रदेश व्यापी आंदोलन.

जयपुर 7 जून 2022।(निक विशेष) मानसरोवर मेट्रो स्टेशन स्थित रावण बस्ती में भू माफियाओं द्वारा लगाई गई आग से हुई हानि की भरपाई एवं आग लगाने वाले भू माफियाओं की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अपने जले हुए बर्तन तथा अन्य सामान को लेकर मुख्यमंत्री कूच की घोषणा करने के बाद आज रावण बस्ती में लगभग एक हजार घुमंतु, अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जाति के नागरिक एवं सत्तर से अधिक संबंधित संगठनों के नेता एकत्रित हुए।

मुख्यमंत्री आवास कूच से पहले ही प्रशासन तथा पुलिस उच्च अधिकारी मौके पर पहुंच गए तथा सभी संगठनों के पदाधिकारियों से मान मनोव्वल कर उन्हें पांच सदस्य प्रतिनिधि मंडल के द्वारा मुख्यमंत्री आवास पर ज्ञापन दिलाने पर सहमति प्राप्त कर ली. लेकिन पुलिस प्रशासन तथा उच्च अधिकारियों के लाख कोशिश करने के बावजूद घुमंतू जाति के नागरिकों तथा जनप्रतिनिधियों को सभा करने से नहीं रोक पाए.

*Open link for this news*

*हमारे चैनल को सब्सक्राइब करना ना भूले,अपनी समस्या और खबर के लिए हमसे संपर्क करें व्हाट्सएप नंबर 8107068124*

    घुमंतु अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जाति परिषद के प्रदेश अध्यक्ष रतन नाथ कालबेलिया ने बताया कि अगर शीघ्र ही अपराधियों जिनमें कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक शिवराम शर्मा का बेटा घनश्याम शर्मा तथा उसके साथी शामिल है को गिरफ्तार कर, यहां रह रहे घुमंतू, अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जातियों के नागरिकों को राहत पैकेज नहीं दिया गया तो प्रदेश भर में जिला तथा उपखंड स्तर पर आंदोलन करेंगे और सड़क जाम करेंगे.
    घुमंतु अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जाति के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने आशा जताई है कि सरकार शीघ्र उनकी मांगों को मानेगी और राज्य भर में खानाबदोश रह रहे घुमंतु अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जातियों की सर्वे कर जहां वे वर्षों से रह रहे हैं उसी भूमि पर उन्हें व्यापार करने एवं रहने की सुविधा उपलब्ध कराएगी ऐसा नहीं होने पर प्रदेशभर के घुमंतु अर्ध घुमंतु तथा विमुक्त जातियों को साथ लेकर बड़ा आंदोलन किया जाएगा.