EXCLUSIVE : अजमेर डेयरी चेयरमैन रामचंद्र चौधरी की बढी मुश्किलेँ,,, सीआईडी सीबी ने किया मौके का फ़िर से अनुसंधान, पीडिता रही मौजूद,,, 2019 में लगा था बलात्कार का आरोप,, पढ़ें पूरी खबर,,

935

1.विश्वस्त सूत्रों के हवाले से खबर 2019 में ही पीड़िता की एफ आई आर के बाद वहां की पूर्व महिला कर्मचारी ने भी रामचंद्र चौधरी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई थी पर दबाव के चलते उसने f.i.r. वापस ले ली ।

2.आपको बता दें 22 नवंबर 2021 को सीआईडी सीबी की टीम जब अजमेर डेयरी पहुंची तो वहां पर सिर्फ एक कर्मचारी मौजूद था वह भी हाल ही में नियुक्ति होना बताया है। यह भी अपने आप में एक सवाल खड़ा करता है ।

जयपुर 24 नवंबर 2021।(निक क्राइम) जैसा की विदित हो अजमेर डेयरी के लगभग 25 सालों से निर्विरोध अध्यक्ष रामचंद्र चौधरी व डेयरि के अन्य कर्मचारियोँ पर अजमेर थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी। पीड़िता ने चौधरी पर अपने चेंबर में बलात्कार करने का लगाया था आरोप ।

पीड़िता 2 सालों से अपने साथ हुए दुष्कर्म के लिए न्याय के लिए दर-दर भटक रही है और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का दंश झेल रही है। इस बीच विगत माह पीडिता ने जयपुर में डीजीपी लाठर से मिलकर अपनी व्यथा सुनाई थी। पुलिस महानिदेशक राजस्थान ने पीड़िता को निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया था।

    इसी परिणामस्वरूप 2 दिन पूर्व सीआईडी सीबी की अतिरिक्त पुलिस उपनिरीक्षक सविता बडगूजर टीम के साथ अजमेर डेयरी पहुंची और पीड़िता के साथ मौका मुआयना किया। पीड़िता के बयान दर्ज हुए।आपको बता दें अभी पिछले माह पीड़िता ने चौधरी और उनके आदमियों पर एक झूठा पोर्न वीडियो पीड़िता को बदनाम करने के लिए जारी करने का गंभीर आरोप लगाया था। जिसकी f.i.r. भी थाने में दर्ज है। इसी संदर्भ में पीड़िता के गवाह को धमकाने संबंध में थाने में गवाह ने भी घीसालाल जाट को पाबंद करने का पत्र भी दिया हुआ है। गौरतलब है कि रामचंद्र चौधरी ने 2019 में हुई f.i.r. को खारिज करने की 482 की याचिका लगाई थी। जिसको उच्चतम न्यायालय ने खारिज कर दिया। पीड़िता का आरोप है उसके बाद से ही पीड़िता को जान से मारने की धमकी मिल रही हैं और मामला वापस लेने का दबाव येन केन प्रक्ररण बनाया जाने लगा है। दुष्कर्म पीड़िता और उसका परिवार सकते में है। लगभग 26 साल की पीड़िता का पूरा कैरियर दांव पर लगा हुआ है।
    पीड़िता ने न्यू इंडिया खबर को बताया कि सीआईडी सीबी ने भी पीड़िता के 2 दिन पूर्व मौके पर हुए बयान को पूर्व में थाने में दर्ज बयान से तस्दीक की तो पाया कि पुलिस केस को रामचंद्र चौधरी के कांग्रेस और भाजपा दोनों दलों में ऊंचे रसूख के चलते शिथिल करने के प्रयास में है। सीआईडी सीबी ने झूठे पोर्न वीडियो के एफआईआर को भी इसी केस के संदर्भ में मर्ज करने की बात कही और दुष्कर्म पीड़िता को निष्पक्ष जांच कर न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

    न्यू इंडिया खबर ने विगत 2 साल से गुमनाम जिन्दगी जीने को मजबूर पीड़ित युवती की आंखों में आंसू और दर्द को महसूस किया था उस दिन, जिस दिन मीडिया से मुखातिब हुई थी वह, अजमेर डेयरी के चेयरमैन रामचंद्र चौधरी पर लगाया था बलात्कार का आरोप, रामगंज में दर्ज कराई थी एफ आई आर ,, शायद जयपुर में ही 5/7 दिनों से भ्रमण पर हैं रामचंद्र चौधरी,देखें पूरी खबर, सीरीज- 2

    नीचे दिये लिंक को खोले और पढ़े पहले प्रसारित खबर,इस लिंक की खबर क नीचे लाईट अक्षरोँ में लिखे continue reading पर क्लिक करे

    न्यू इंडिया खबर ने विगत 2 साल से गुमनाम जिन्दगी जीने को मजबूर पीड़ित युवती की आंखों में आंसू और दर्द को महसूस किया था उस दिन, जिस दिन मीडिया से मुखातिब हुई थी वह, अजमेर डेयरी के चेयरमैन रामचंद्र चौधरी पर लगाया था बलात्कार का आरोप, रामगंज में दर्ज है एफ आई आर ,, शायद जयपुर में ही 5/7 दिनों से भ्रमण पर हैं परमानेन्ट चेयरमैन रामचंद्र चौधरी,देखें पूरी खबर, सीरीज- 2

    अब देखना यह होगा कि 2 साल से न्याय के लिए भटक रही पीड़िता हो आखिर पुलिस कब न्याय दिला पायेगी, जिससे समाज में सकारात्मक संदेश पहुंचे और ऐसे दुष्कर्मियों के हौसले पस्त हो, साथ ही इस तरह के लोग बेटी समान युवतियों के साथ जबरदस्ती करने से पहले सौ बार सोचे।

    5 लाख 36 हजर से अधिक readers/vewivers के विस्वास के लिए सभी का आभार,

    Report by, SUNNY ATREY EDITOR NEWINDIA KHABAR

    STATE PRESIDENT PERIODICAL PRESS OF INDIA
    NATIONAL JOURNALIST ASSOCIATION
    WHATSAPP NUMBER 8107068124