सत्त्वा थिएटर कला प्रेमियो के लिए नये आयाम स्थापित करेगा,प्रकृति से प्रेम करो:- रेणुका कुमार

140

जयपुर 10 नवंबर 2021।(निक कल्चर)सत्त्वा थिएटर और कला मंच हम उन कलाकारों को संरक्षित और बढ़ावा देने के लिए विनम्रतापूर्वक योगदान देते हैं जो विशेष रूप से इन कठिन समय में एक मंच खोजने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। यह जानकारी सत्त्वा थिएटर की फ़ाइंडर रेणुका कुमार ने दी।उन्होने आगे बताया की एम्फीथिएटर 2017 में लोक कलाकारों, स्वदेशी संगीतकारों के साथ-साथ भारत और विदेशों के विभिन्न हिस्सों के कलाकारों को प्रायोजित करता है। साइंस सत्त्वा एम्फीथिएटर बैठक संगीत समारोहों के लिए एक आदर्श स्थान है। यह हरे पेड़ों और एक जैविक हरी इमारत के बीच बसे एक शांत और सौंदर्यपूर्ण वातावरण में स्थित है जो एक परिचित और गर्म वातावरण के साथ स्थायी जीवन को बढ़ावा देता है। जिसमें एक एआरटी कैफे लाउंज और एक बहु-स्थान शामिल है। कार्यशालाओं का आयोजन, पुस्तक विमोचन और कला से संबंधित गतिविधियाँ आयोजित होंगी।

इसमें 100 मेहमानों के बैठने की क्षमता है और गार्डन थिएटर में लगभग 300 मेहमान बैठ सकते हैं। एक अंतरंग भावना के साथ विचार यह है कि हम कलाकारों के साथ नाचते या गाते हैं और बारीकियों को करीब से देखते हैं, एक सभागार के विपरीत जहां हम मंच से काफी दूरी पर बैठे होते हैं पर यहाँ सब अंतरंगता के साथ जुडे नज़र आएँगे ।

*OPEN LINK FOR THIS NEWS*

*SUBSCRIBE OUR CHANNEL CONTACT FOR YOUR NEWS ON WHATSAPP 8107068124*

ऐसे में होटल क्लार्क्स आमेर के पीछे श्री विहार स्थित सत्वा थियेटर का महत्व और बढ जाता है।
रेणुका कुमार ने बताया की अब जयपुर में शास्त्रीय नृत्य कला सीखने के लिए बहुत रियायती फीस के साथ यह यह प्लेटफार्म उपलब्ध रहेगा।

    शेष जरूरतमंद सीखने की ललक रखने वाले शिष्यों के लिए निशुल्क सुविधा भी उपलब्ध रहेगी।