मंदिर माफी भूमि की जमीन पर कब्जे के सदमे ने लील ली मूकबधिर पुजारी की जान,, दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की माग को लेकर धरने पर बैठे सांसद किरोडी लाल,

912

जयपुर/महुआ 3 अप्रैल 2021।(निक क्राइम) मूक बधिर बुजुर्ग पुजारी की जमीन पर दबंगों ने किया कब्जा,, सदमे से पुजारी की हुई मौत,वैष्णव (च.स.)विकास समिति जयपुर ने की दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग।
मंदिर माफी डोली भूमि पुजारियों के लिए मौत की वजह बनती जा रही है। क्योंकि मंदिर माफी की जमीन भगवान के नाम होती है। पुजारियों के नाम नहीं है इस कारण दबंग लोग इन जमीनों पर आसानी से कब्जा कर लेते हैं। वैष्णव (च. स.) विकास समिति के जयपुर जिला अध्यक्ष राजेंद्र वैष्णव (आरके टेलर) ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही मृतक पुजारी के परिवार को तुरंत आर्थिक सहायता एवं आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है।
अभी कुछ समय पहले करौली में मंदिर पुजारी बाबूलाल वैष्णव की हत्या के बाद दौसा जिले के महुआ उपखंड क्षेत्र के टिकरी गांव में एक मूक-बधिर बुजुर्ग पुजारी की जमीन पर दबंगों ने कब्जा कर लिया था सदमे से पुजारी की मौत होने के बाद राज्यसभा सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा पुजारी के शव को ब्राह्मण संगठन एवं ग्रामीणों के साथ महुआ थाने के बाहर लेकर धरने पर बैठे हुए हैं।
बताया जा रहा है कि

महुआ थाना क्षेत्र के टिकरी गांव निवासी पुजारी शंभू दयाल शर्मा की गांव में मंदिर माफी की 26 बीघा भूमि पर भू माफियाओं ने जबरन कब्जा किया हुआ है। पुजारी शंभू दयाल मूकबधिर था जिसका फायदा उठाकर उसके दो बीघा जमीन जो नेशनल हाईवे से सटी हुई थी जिसकी कीमत करोड़ों रुपए थी मात्र 8 लाख रुपए में फर्जीवाड़ा करते हुए रजिस्ट्री करवा ली। इस मामले की जानकारी ग्रामीणों को मिलने पर पुजारी ने ग्रामीणों के साथ मिलकर महुआ थाने पहुंचकर रजिस्ट्री होने के कुछ समय बाद ही महुआ थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई जिस पर पुलिस ने लीपापोती कर आज तक दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जिसके चलते पुजारी शंभू दयाल शर्मा सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया और गंभीर रूप से बीमार हो गया और आखिर आज उसकी मौत हो गई।
वैष्णव (च.स.) विकास समिति जयपुर के अध्यक्ष राजेंद्र वैष्णव एवं अंतर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ उद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल बोहरा ने राजस्थान सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मांग करते हुए कहा है कि मंदिर माफी की जमीन पर शीघ्र निर्णय लेते हुए पुजारियों को खातेदारी का अधिकार दिया जाए।
अन्यथा दबंग लोग मंदिरों के जमीन पर ऐसे ही कब्जा करते रहेंगे और पुजारी बेमौत मारे जायेंगे।

खबरों व विज्ञापनो के लिये सम्पर्क करे WHATSAPP 8107068124