आमजन एवं पेंशनर्स को कम कीमत की एवं गुणवत्ता दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित हो- संभागीय आयुक्त

347
    संभागीय आयुक्त डाॅ.समित शर्मा ने सहकारिता विभाग के अधिकारियों को वीडियों कॉन्फ्रेंस में दिए निर्देश,,

    जयपुर, 4 मार्च 2021।(निक विशेष) सहकारिता विभाग द्वारा राजकीय चिकित्सालयों में उपलब्ध कराई जाने वाली दवाओं के सम्बन्ध में संभागीय आयुक्त डाॅ समित शर्मा द्वारा वीडियो काॅम्फे्रंसिंग के माध्यम से जयपुर संभाग के काॅपरेटिव विभाग के समस्त अधिकारियों, महाप्रबंधक (सहकारिता) ,जिला कोषाधिकारी तथा जिला स्तर के प्रबन्धक एवं ब्लाॅक स्तर के अधिकारी एवं फार्मासिस्ट से विस्तृत चर्चा कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवष्यक दिशा-निर्देश प्रदान किये गए।
    उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार आमजन एवं पेंशनर्स को कम कीमत की एवं गुणवत्तापूर्ण जैनरिक दवाओं की उपलब्धता आवश्क रूप से सुनिष्चित की जाये। सहकारिता विभाग की दुकानें समय पर खुलें एवं समय पर बंद हो। बडे अस्पतालों में एक दुकान 24 घंटे खुली रहनी चाहिए।
    प्रत्येक फार्मासिस्ट अपनी फोटो एवं ड्रग लाईसेंस को स्पष्ट दिखने वाली जगह डिसप्ले करेंगे। दुकानों पर बोर्ड लगाकर उपलब्ध दवाओं के मूल्य सूची (एम.आर.पी. व भण्डार की विक्रय दर) निर्देषानुसार प्रदर्षित किये जाये। उन्होंने कहा कि आवष्यक एवं आमतौर पर काम आने वाली दवाओं का पर्याप्त स्टाॅक (300 से 500 दवाईयाँ) रखते हुए, उनकी उपलब्धता सुनिष्चित की जाये, ताकि ग्राहकों को सभी दवाईयाँ आवष्यक रूप से उपलब्ध कराई जा सकें।

    उन्होंने निर्देश दिए कि दवाओं की खरीद पारदर्षी तरीके से होनी चाहिए तथा आवष्यक प्रक्रिया अपनाकर कम्पनी के प्राधिकृत सप्लायर से ही दवा खरीदी जाये, जिससे कम कीमत पर अच्छी गुणवत्ता की दवाईयाँ उपलब्ध हो सकें तथा कम्प्यूटराइज्ड इन्वेंटरी मेनेजमेंट कर निर्बाध आपूर्ति की जायें। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को कहा कि यदि राज्य सरकार के निर्देषों के विपरीत यदि कोई राजकीय चिकित्सक ब्राण्डेड एवं महंगी दवाईयों को मरीजों की पर्चियों पर प्रेस्क्राइब करते हैं तो उनकी सूचना सी.एम.एच.ओ., पी.एम.ओ., एम.एस. आदि को दें, जिससे आवश्यक सुधारात्मक कार्यवाही की जा सके। कम कीमत की एवं गुणवत्तापूर्ण दवा आमजन को उपलब्ध हो इसके लिए विभिन्न प्रचार-प्रसार माध्यमों द्वारा आमजन को जागरूक किया जायें।