सीमावर्ती क्षेत्र से जासूसी करने का आरोपी गिरफ्तार,,

73

जयपुर, 27 अगस्त।(निक क्राइम)अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस इन्टेलीजेन्स उमेश मिश्रा के निर्देशानुसार पाकिस्तानी हैण्डलिंग एजेन्सी को राजस्थान के सीमावर्ती क्षेत्रों की सामरिक महत्व की सूचना भेजने में लिप्त संदिग्ध मुश्ताक अली पुत्र खण्डू खां, उम्र 40 साल निवासी गांव बामरला डेर भवार पुलिस थाना सेडवा जिला बाडमेर को सीआईडी विषेष शाखा जयपुर के स्पेशल पुलिस स्टेशन पर धारा 3, 3/9 शासकीय गुप्त बात अधिनियम 1923 के तहत मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार किया गया है।
मिश्रा ने बताया कि गिरफ्तार युवक की पिछले वर्षों से जासूसी गतिविधियों में सक्रिय होने के इनपुट मिल्ट्री इन्टेलीजेन्स से एटीएस राजस्थान को मिलने पर एटीएस के उच्चाधिकारियों के निर्देशन पर खुफिया तौर से निगरानी रखी जा रही थी। मुश्ताक अली से विगत दिनों एटीएस टीम द्वारा बाडमेर जाकर पूछताछ पर की गयी तथा अन्य सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा भी तलब कर पूछताछ की गयी थी।
पूछताछ में जासूसी संबन्धी गतिविधियों में लिप्त होने की पुष्टि होने पर संयुक्त पूछताछ हेतु 27 अगस्त को संदिग्ध को जयपुर लाया गया। जयपुर से भी सुरक्षा एजेन्सियों द्वारा गहन पूछताछ के उपरान्त पाया गया कि मुश्ताक अली शातिर तरीके से पाक हैण्डलिंग आॅफिसर के इशारे पर गोपनीय सूचनायें अपने मोबाईल फोन के द्वारा वाट्सएप फैसबुक मैसेन्जर का उपयोग कर भेजता था।

सीमावर्ती क्षेत्र में भारतीय सेना की गतिविधियों की सूचना उपलब्ध कराने हेतु पाक हैण्डलिंग अधिकारियों द्वारा मुश्ताक अली को सूचनाओं की एवज में धनराशि उपलब्ध करायी जा रही थी।
उल्लेखनीय है कि आरोपी मुश्ताक अली का पिता खण्डू खां को 9 अगस्त 2020 को पुलिस थाना कोतवाली बाडमेर द्वारा मुकदमा नम्बर 275/20 अन्तर्गत धारा 489 क,ख,ग भादस भारतीय जाली मुद्रा व 8/21 एनडीपीएस एक्ट मादक पदार्थ में गिरफ्तार किया गया है।