सरियों से मारा गया,, पत्नी की इज्जत तार-तार करने हुई कोशिश ,, एफ आई आर हो चुकी है दर्ज,,1 महीने से ऊपर बीत गया है समय,, पीड़ित राजकुमार उसकी पत्नी रमेश और परिवार को अभी तक नहीं मिला है न्याय,, मंशारामपुरा,सरना डूंगर करधनी थाना क्षेत्र का है मामला,, पीड़ित परिवार के अनुसार चाचा ताऊ हड़पना चाहते हैं इनके हक की जमीन,, पुलिस की तरफ से भी अभी तक नहीँ हुई उचित कार्रवाई ,,,,क्या कोई साठगांठ?

1655

जयपुर 16 अगस्त।(निक क्राइम) मामला मंशारामपुरा,सरना डूंगर,करघनी थाना क्षेत्र का है,, रमेश, राजकुमार उसकी पत्नी व परिवार के अन्य सदस्य 12 जुलाई को अपने बाप दादाओं की खातेदारी की जमीन के अपने हिस्से पर बुवाई व गुड़ाई कर रहे थे तभी छह-सात लोग हथियारों से लैस होकर खेत में घुस गए और राजकुमार पर हथियार से वार कर दिया। जिससे उसका सर मैं गंभीर चोट आई, खून बहने लगा उसकी पत्नी जब बीच बचाव करने आई तो उस पर भी ताबड़तोड़ हमला कर दिया, यही नहीं उसके साथ जबरदस्ती अश्लील हरकत करने की कोशिश की गई पुलिस मौके पर पहुंची नहीं कुछ देर बाद एंबुलेंस आई और कांवटिया अस्पताल में घायलों को ले गई, वहां इलाज की मनाही होने पर एसएमएस अस्पताल में राजकुमार के लगभग 6 टांके आए। बड़ी मशक्कत के बाद 4 दिन बाद एफ आई आर दर्ज हुई करधनी थाने में।

12 जुलाई की मार पीट में गम्भीर घायल राजकुमार

पीडीत राजकुमार और रमेश के अनुसार मारपीट और जबरदस्ती करने वाले उसी के रिश्तेदार चाचा ताऊ है।
उनके अनुसार इनके हिस्से की जमीन वह हड़पना चाहते हैं रमेश ने न्यू इंडिया खबर को बताया कि यह झगड़ा सालों से चल रहा है, पुलिस में कई बार परिवाद दाखिल किया जा चुका है, लेकिन पुलिस प्रशासन इस और आंखें मूंद लेता है अब 1 महीने से ऊपर का समय बीत चुका है अब तक क्यों नहीं हुई मारपीट करने वालों की गिरफ्तारी,जमीन का मामला आपसी हो सकता है,पर मारपीट और महिला के साथ दुर्व्यवहार करने वालों को अब तक क्यों खुलेआम घूम ने दिया जा रहा है। आखिर पुलिस कब पीडितो को न्याय दिलाने पायेगी,,

आला अफसर कब लेंगे संज्ञान जांच कब होगी पूरी?
रमेश और राजकुमार के पिताजी ने कहा कि यह जमीन के तीन हिस्से हैं पर मेरे भाई हमारा हिस्सा हड़पना चाहते हैं। परिवार में भय खौफ का वातावरण है। अपने ही रिश्तेदारों की बहू बेटियों पर है बुरी नजर,दुर्व्यवहार करने से भी नहीं कतरा रहे,, किसकी शह पर ? जमीन का लालच,,,
समाज किस ओर जा रहा है, यह हम सब की सोच का है विषय,,