छोटे, मझोले ,डिजिटल मीडिया व स्वतंत्र पत्रकारों के लिए ,*राहत पैकेज* की मांग, पीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय ने 4 दिन पहले लिखा था ,गहलोत को पत्र, पत्रकार कल्याण कोष में रखा करोडों रुपया कब और कहाँ काम आएगा,गुजारिश पर स्वाभिमान के साथ,

703

जयपुर 1 अप्रैल 2020।(निक विशेष) आज कोरोना महामारी से सम्पूर्ण विश्व प्रभावित है। आपदा की इस घड़ी में सभी प्रदेशवासी एक जुट हो इस जंग में जुट गए हैं,खासकर डॉक्टर्स,नर्सिंग स्टॉफ, हाउसकीपिंग सेवाएं, पुलिस,समाजसेवी संस्थाएं आदि के साथ मीडिया भी 24 घण्टे अपने स्वास्थ्य की चिंता किये बगैर आमजन व खास के परिवार जनों की सेवा में दिनरात एक कर रहे हैं।
पीरियोडिकल प्रेस ऑफ इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष सन्नी आत्रेय ने कहा कि कोरोना वायरस के कारण बहुतायत पर आर्थिक संकट मंडराने लगा है, साधुवाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को जिन्होंने हर तबके के जरूरतमंद,गरीबों को कुछ ना कुछ राहत देते हुए सबके साथ मदद का हाथ बढ़ाया।
इसी क्रम में उन सभी पत्रकारों व उनके परिवार जनों के सामने रोटी रोजी का संकट दुगुना हो गया है,यह वह पत्रकार हैं जो किसी संस्थान में काम नहीँ करते। अपनी मेहनत व पत्रकारिता के मिशन को आगे बढ़ाने का श्रम बिना किसी मदद के कर रहे हैं।

इन छोटे मझोले व डिजिटल मीडिया के पत्रकारों पर भी कोरोना की मार का असर साफ तौर पर देखा जा रहा है। फिर भी हर परिस्तिथियों में खबरों का संकलन कर अपने अपने माध्यमों से जन जन तक पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं।
एक संवेदनशील व मीडिया फ्रेंडली मुख्यमंत्री होने के नाते सभी की आपसे उम्मीद बनी रहती है।
हम जरूरतमंद पत्रकारों की बस यही मांग है कि जब तक डिजिटल मीडिया आदि की कोई नीति बने उससे पहले इस असमय अकस्मात आई विपदा से उबारने के लिए कम से कम 3 महीने का राहत पैकेज की घोषणा कर सभी के बैंक खाते में नीति अनुसार रुपया ट्रांसफर किया जाए।

मुख्यमंत्री जी आपको याद दिला दूँ आपने अपने विगत शासन काल मे पत्रकार कल्याण कोष में 2 करोड़ रुपये दिए थे,इतने सालों में इस मद में ब्याज बढ़ोतरी हो रही है, साथ ही संवाद द्वारा काटे गए लगभग 4 प्रतिशत राशि भी सूचना व जनसम्पर्क विभाग में संचयित हो रही है आदि,आदि,
कब काम आएगी यह राशि,,,,

सनद रहे कल का भविष्य है डिजिटल मीडिया,,

Sunny arrey, editor,New india खबर
State president,periodical press of india,national journalist association
Mob.8302118183,whatsapp.8107068124