मैने मास्क नहीँ पहना,मैं समाज का दोषी हूँ,,, भोजन ,मास्क बांटें पर मास्क पहन कर बांटें, पब्लिसिटी स्टन्ट नहीँ है “कोरोना”,, जिम्मेदार व्यक्ति भी कर रहे गैर जिम्मेदाराना हरकत,मीडिया से अपील ,बिना मास्क की खबरों को तरजीह ना दें,,

1039

जयपुर 24 मार्च 2020।(निक विशेष) आज सम्पूर्ण विश्व कोरोना के भँवर जाल में फंसता चला जा रहा है,भारत भी इससे अछूता नहीँ है,कोरोना को वजह से सारी व्यवस्थाएं चरमरा गई हैं,केंद्र व राज्य सरकारों ने सभी से अपील की है कि आवश्यक दिशा निर्देशों का पालन करें,,पूरे देश में कर्फ्यू जैसे हालात हैं।
इसी के मद्दे नजर समाज सेवियों व अन्य ने गरीबों, निराश्रितों व जरूरतमन्दों के लिए खाना, मास्क व सेनेटाइजर आदि वस्तुओं के वितरण की व्यवस्था करनी शुरू कर दी है। मीडिया इन सभी की खबरों तक आप तक पहुंचाने का काम कर रहा है।
लेकिन newindia खबर ने अपनी पड़ताल में पाया कि आवश्यक वस्तुओं के वितरण में लापरवाही बरती जा रही है। मास्क व खाना बांटते समय स्वयं मास्क नहीँ लगा रहे हैं ।
इसके साथ ही मीडिया में फ़ोटो खिंचवाने के चलते मास्क को उतार भी दिया जाता है।

ऐसे में मीडिया से भी अपील की इस तरह के आयोजन जहाँ लापरवाही बरती जाए,भीड़ इकट्ठी की जाए,उसे कवरेज ना दें।
समझना होगा गम्भीर रूप लेता जा रहा है कोरोना वायरस,,ताज़ा हालात हैं कि अब घरों से भी अति आवश्यकता होने पर ही मास्क लगा कर,जिला प्रशासन से अनुमति के बाद ही निकलें।
गहलोत सरकार को भी साधुवाद,जिन्होंने स्तिथि को नियंत्रण के लिए आवश्यक कदम उठाए। जनता को चाहिए कि सब मिलजुलकर राज्य सरकार के निर्देशों का पालन कर जल्द से जल्द इस भयावह स्तिथि पर काबू पाया जाए।

    निवेदन,, जो मास्क बांटा जा रहा है वह मात्र 24 घण्टे कारगर है,कम से कम 10 दिन का पैकेज प्लान किया जाए,जिससे वाकई में मकसद पूरा हो,

    Sunny Atrey, editor, Newindia ख़बर
    State president, periodical press of india, national journalist association
    Mob 8302118183,,whatsapp 8107068124,