‘विविधा‘ फेस्टिवल : दूसरा दिन *जेकेके में रविंद्रनाथ टैगोर की कविता ‘द चाइल्ड‘ पर आधारित नृत्य नाटिका की हुई अनोखी प्रस्तुति

240

जयपुर, 17 दिसंबर2019।(निक कल्चर) जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में जयपुर के कलाप्रेमियों के लिए आयोजित ‘विविधा-2‘ फेस्टिवल के दूसरे दिन गुरुदेव रविंद्रनाथ टैगोर की कविता ‘द चाइल्ड‘ पर आधारित अनोखा कन्टेम्परेरी डांस ड्रामा पेश किया गया। टैगोर ने मूल रूप से यह कविता अंग्रेजी भाषा में लिखी थी। कोलकाता की तनुश्री शंकर की संकल्पना एवं कोरियोग्रॉफी पर आधारित इस प्रस्तुति में कलाकारों की नृत्य मुद्राएं और लाइट इफेक्ट्स ने सभी दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में कलाकारों ने नृत्य के माध्यम से भारत की सांस्कृतिक विविधता एवं समृद्धि को पूरे कौशल से प्रस्तुत किया।

‘द चाइल्ड‘ नृत्य नाटिका में मनुष्य की लयबद्ध आध्यात्मिक यात्रा को दर्शाया गया, जिसके माध्यम से वह अज्ञानता के बंधन से मुक्त हो कर अंततः ज्ञान और आत्म स्वरूप को प्राप्त करता है। प्रस्तुति में मातृत्व के सेलिब्रेशन का प्रदर्शन भी बेहतरीन तरीके से किया गया। इस प्रस्तुति में रेसिटेशन विक्टर बनर्जी ने किया, जबकि संगीत देबाज्योति मिश्रा का था। गायन श्रीकांत आचार्या, लोपामुद्रा मित्रा और सुकन्या घोष का था। ट्रांसक्रिएशन कमलेश्वर मुखर्जी का था।

कार्यक्रम के आरम्भ में कलाकारों ने महिषासुरमर्दिनी स्तोत्र – ‘अयि गिरिनन्दिनि नन्दितमेदिनि विश्वविनोदिनि नन्दिनुते‘ गीत पर मां दुर्गा की स्तुति करते हुए मनोरम नृत्य पेश किया। कार्यक्रम के दौरान आनंद शंकर के संगीत पर शाही दरबार में होने वाले ‘कोर्ट डांस‘ की शानदार प्रस्तुति दी। इस प्रस्तुति में कलाकारों की वेशभूषा एवं आभूषणों ने सभी दर्शकों को प्राचीन युग की भव्यता की याद दिला दी। ‘मन मयूरी‘ प्रस्तुति में मनुष्य एवं प्रकृति तथा वर्षा एवं मयूर के मध्य निहित प्रेम को साकार किया। इसी प्रकार ‘पहाड़ी‘ प्रस्तुति में पहाड़ों, घाटियों एवं नदियों के समीप रहने वाले लोगों का लोकनृत्य और ‘अमिटी‘ प्रस्तुतियां भी खास रही।

*बुधवार<

18 दिसंबर को डॉ. मधु भट्ट तैलंग की ध्रुपद प्रस्तुति*
बुधवार 18 दिसंबर को जयपुर की डॉ. मधु भट्ट तैलंग ‘ध्रुपद फीमेल सिंगिंग‘ के अंतर्गत अपनी प्रस्तुति देंगी। वे जयपुर ध्रुपद घराने के अतिरिक्त स्वामी विवेकानंद एवं मीरां की रचनाओं और विविध रागों पर आधारित रागमाला की प्रस्तुति देंगी।

उल्लेखनीय है कि 16 से 20 दिसंबर तक आयोजित हो रहे इस पांच दिवसीय फेस्टिवल के दौरान शानदार प्रस्तुतियां दी जा रही हैं। फेस्टिवल के सभी कार्यक्रम सायं 6.30 बजे मध्यवर्ती में हो रहे हैं। इस फेस्टिवल में दर्शकों के लिए प्रवेश निशुल्क है।

=====================