आज की शख्शियत: डॉ नरेश गोस्वामी,, गर्व से कहलाना चाहते हैं मोदी भक्त,,भविष्यवक्ता के साथ संगीत में रुचि रखने वाले डॉ नरेश पूर्णतया संघी हैं,

838

मोदी भक्त होने के बावजूद,अजमेर निवासी डॉ नरेश गोस्वामी ने विगत विधानसभा चुनावों में वसुंधरा के नेतृत्व में राजस्थान में भाजपा की हार की भविष्यवाणी कर दी थी,,,,
अभी कुछ दिनों पूर्व इनके अजमेर की माकड़वाली गली में स्थित उनके घर पर साक्षत गणेश भगवान एक प्रतिमा के रूप में इनके यहाँ प्रकट हुए थे, जिसकी सभी छोटे,बड़े राष्ट्रीय ,राज्यस्तरीय समाचार पत्रों व चैनल्स में खबरें प्रकाशित व प्रसारित हुई थी,,,,

अजमेर 22 अप्रैल 2019।(निक विशेष)वाटर वर्क्स मे मुख्य रसायनिज्ञ के पद पर रहते हुऐ जुझारी रसायनिज्ञ रहते हुऐ 6 माह के कार्य काल मे वो कार्य किये जो पिछले 14-15 साल में किसी मुख्य रसायनिज्ञ ने नही किये।
आपने सभी प्रयोग शालाओं के लिए 50 लाख रूपया बिल्डिंगों के लिए सेक्सन कराए ।
जयपुर के लिए भी अपने सेवा काल मे 1 से 2 करोड रुपये अनुमोदित कराए जिसकी बदौलत आज सभी प्रयोग शालाओं अच्छे खास भवन में संचालित हैं, पूर्व मे जो छोटे से 2 कमरे पर चलती थी।
उस समय के दबंग प्रशासनिक अधिकारी रामलुभाया से 2011 में यह राशि सेंक्शन कराई थी। राम लुभाया उनकी बात से पूर्णतया सन्तुष्ट रहते थे।
देश ही नहीं विदेशों की यात्रा कर चुके डा नरेश गोस्वामी संगीत प्रेमी भी हैं साथ ही अच्छे खिलाड़ी के रूप में पोलारिस स्कूल के टीम के कप्तान भी रहे थे ।
माऊंट आबू कोचिंग मे भी उन्होंने भाग लिया था जहाँ विनोद माथुर अशोक जोशी, विनय मेहता जैसे उस समय के राजस्थान के स्टार खिलाड़ी उनके साथी थे ।
संघी होने के नाते व निरन्तर शाखा में सक्रिय रहने के कारण यतेन्दर सिंह, रजू भैया के छोटे भाई उनसे बहुत स्नेह रखते थे।
नतीजतन छोटी सी छोटी पार्टी मे भी उनके यंहा आते जाते थे ।
डा.गोस्वामी संघ के।1964-65 से कार्यकर्ता रहे हैं।
जयपुर में जहां आज कनोडिया कालेज है वहाँ नियमित शाखा में जाते थे, ओम जी जाजू, फूल जी पूनम चन्द जैन निरजंन माथुर, एस डी मिश्रा आदि से शाखाओं में देश के हालातों पर चर्चा करते थे।

यह है वो गणेश प्रतिमा,जो आज डॉ नरेश के घर में शोभा बढ़ा।रही है, जिसे पूजने आसपास के लोग आते रहते है,व भक्तिमय वातावरण में निरन्तर भजन कीर्तन की सरिता बहाते रहते हैं,

सगींत के धनी पं माधव लाल जी के पुत्र गायन कला मे पूर्ण आज कल केसियो में पूर्ण कमान प्राप्त करने में व्यस्त हैं, जोड़ ,सपाट ताने ,झाला मिड के धनी 69 वर्ष के दिल से जवान M Sc Ph D 1979 के डॉ नरेश के एन्टी केन्सर के कार्य को बहुत सराहा गया था।
मोदी भक्त कहलाने में उन्हें कोई परहेज नहीं है,साथ भविष्यवक्ता के रूप में विख्यात एक बार फिर मोदी को प्रधानमंत्री देखना चाहते हैं ।